[Registration] स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 | ऑनलाइन Application फॉर्म

स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 | स्त्री स्वाभिमान योजना आवेदन पत्र | Application form | Stree Swabhiman yojana registration online | Helpline Number

स्त्री स्वाभिमान योजना 2019: स्त्री स्वाभिमान योजना स्त्री स्वाभिमान योजना भारत सरकार द्वारा देश में रह रही महिलाओं के लिए शुरू की गई योजना है जबकि उन लोगों से भी जान सकते हैं स्त्री स्वाभिमान योजना| इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को उनके अच्छे स्वास्थ्य के लिए जागरूक करना है| महिलाएं अपने घर के कामों में व्यस्त होती है कि वह अपनी सेहत का ख्याल नहीं रख पाती है और इसी के चलते उन्हें कई प्रकार की गंभीर बीमारियां घेर लेती है| महिलाओं को उनके स्वास्थ्य के प्रति जागरूक और स्वच्छता के प्रति जागरूक करने के लिए इस योजना का प्रारंभ किया गया है|  स्त्री स्वभिमान सेंटर द्वारा CSC स्कीम के तहत स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत सेनेटरी नैपकिन बनाने के लिए महिलाओं को रोजगार दिया जा रहा है।

स्त्री स्वाभिमान योजना ऑनलाइन Application फॉर्म

इस योजना का मुख्य उद्देश्य महिलाओं को मासिक धर्म के प्रति जागरूक करना है ताकि उस समय में अधिक अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें| क्योंकि यही वह समय होता है जिसमें महिलाओं का अन्य बीमारियों के द्वारा जकड़ में आने का भय रहता है| इसी को मद्देनजर रखते हुए सरकार द्वारा स्त्री स्वाभिमान योजना जिसमें उनके स्वास्थ्य के प्रति महिलाओं को जागरूक किया जाएगा योजना का प्रारंभ किया गया है| इस योजना के माध्यम से महिलाओं में मासिक धर्म के समय सैनेट्री नैपकिंस इस्तेमाल करने के लिए मुख्य रूप से प्रेरित किया जाएगा| ताकि उन्हें कोई भी गंभीर बीमारी ना जकड़े|

इस योजना का शुभारंभ 27 जनवरी 2018 को किया गया है| इस योजना का शुभारंभ रविशंकर प्रसाद जी द्वारा महिलाओं के लिए किया गया है| इस योजना का शुभारंभ महिलाओं को जागरूक करने के लिए गांव से ही शुरू किया गया है| यह योजना मिनिस्ट्री ऑफ इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी है| इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि देश की महिलाओं तथा लड़कियों को उपलब्ध किए जा सके| इस योजना के माध्यम से शहरों में ही नहीं बल्कि गांवों के छोटे-छोटे गांव से भी महिलाओं को साथ मैं जोड़ना इस योजना का मुख्य उद्देश्य है| यह सैनिटरी नैपकिंस महिलाओं को बहुत ही कम दामों में उपलब्ध किए जाते हैं जबकि लड़कियों को मुफ्त सेवा ली जाती है|

स्त्री स्वाभिमान योना Registion

महिलाओं तथा बेटियों के लिए शुरू की गई यह योजना एक वरदान है| इसी योजना के साथ अधिकतर महिलाओं को ही जोड़ा गया है ताकि वह भी इस बारे में अधिक से अधिक जान सके और अन्य जनता को भी इस बारे की जानकारी दे सकें| इस योजना से संबंधित सैनिटरी नैपकिन बनाने के लिए देश में बहुत सी जगहों पर छोटे-छोटे ने यूनिट मैं बनाई गई है| यह बहुत ही दामों पर एक नैपकिंस तैयार कर देते हैं| इसे बनाने का बहुत ही सरल तरीका है| किसी भी परेशानी मुक्त तरीके से से बनाया जा सकता है| बहुत ही कम मूल्य पर इसे महिलाओं को उपलब्ध किया जाता है| यह सैनिटरी नैपकिंस इको फ्रेंडली होते हैं ताकि किसी को भी इनसे कोई परेशानी ना हो|

Registration Here

सीएससी में लगभग 35000 से अधिक महिलाएं उद्यमी काम कर रहे हैं| इस योजना के माध्यम से देश की महिलाएं ना केवल सशक्त बनेगी बल्कि सामाजिक वर्जना को दूर करने और सैनिटरी नैपकिंस के उपयोग को प्रोत्साहित करने के लिए अपने समाज की महिलाओं को शिक्षित करेंगे| एक तरह से देखें तो यह महिलाओं के लिए आजीविका का स्रोत भी है| सूत्रों की मानें तो सैनिटरी नैपकिन स्कूल स्वाभिमान ब्रांड के नाम के तहत बेचा जाएगा |

स्त्री स्वाभिमान योजना 2019 प्रमुख उद्देश्य:-

  • सरकार द्वारा इस योजना को चलाने का मुख्य उद्देश्य यही है कि देश की महिलाओं को जागरूक किया जा सके|
  • 1 दिन में 1500 से 2000 नैपकिन का उत्पादन किया जा सकता है|महिलाओं को उनके स्वास्थ्य के प्रति अधिक स्वच्छता का ध्यान रखने के लिए प्रेरित किया जा सके|
  • महिलाओं को फ्री सैनेट्री नैपकिंस उपलब्ध करना ही सरकार का मुख्य उद्देश्य है|
  • देश में महिलाओं में पैदा हो रही भिन्न-भिन्न बीमारियों की रोकथाम करना भी इस योजना का मुख्य उद्देश्य है|
  • सस्ते दामों पर महिलाओं को सैनिटरी नैपकिंस उपलब्ध करना है|
  • ग्रामीण इलाकों की लड़कियों और महिलाओं को इस में प्राथमिकता दी जाएगी|
  • इको फ्रेंडली नैपकिन महिलाओं तथा लड़कियों को उपलब्ध करना ही सरकार का मुख्य उद्देश्य है|

इस योजना का प्रारंभ सबसे पहले गांवों से शुरू किया जाएगा| ताकि गांव की अर्थव्यवस्था को सुधारा जा सके | इस योजना के तहत प्रमुख रूप से गांव की महिलाएं तथा अन्य शहरी महिलाओं को जोड़ा जाएगा| तथा उन्हें आत्मनिर्भर बनाना में सोचना का उद्देश्य है| इस योजना को लघु विनिर्माण इकाइयां जैसे सीएसई की पहल के साथ के ग्रामीणों के साथ बहुत ही अच्छी तरह से शुरू किया गया है|

स्त्री स्वाभिमान योजना 2020:-

जिन लड़कियों को महामारी होती है| उन्हें किसी भी प्रकार के सांस्कृतिक, क्रीडा में भाग लेने के लिए असहजता महसूस होते हैं| केवल सेनेटरी टावर के ना इस्तेमाल करने की कठिनाइयों के कारण| नतीजा यह निकलता है कि लड़कियां हर महीने औसतन 4 दिन स्कूल जाने से वंचित रह जाते हैं जो कि साल में 1 महीने से अधिक दिन होते हैं जिसका अर्थ यह निकलता है कि कक्षा में पिछड़ जाएंगे और कभी-कभी उसे बाहर भी निकल जाते हैं| यह प्राथमिक तथा माध्यमिक स्कूलों में छात्राओं की प्रमुख समस्या है| उसी को मध्य नजर रखते हुए सरकार द्वारा इस योजना का शुभारंभ किया गया है| Online Application Form

सीएससी एसपीवी मशीनों के प्रधान स्थापित और प्रशिक्षण करने के लिए गांव स्तर के उद्योगों को प्रशिक्षित करेगा| सैनिटरी नैपकिंस के लिए विनिर्माण सुविधा की प्रमुख विशेषताएं निर्धारित की गई है| जिसमें लगभग 1 दिन में 1500 से 2000 नैपकिन का उत्पादन किया जा सकता है|

स्त्री स्वाभिमान योजना प्रमुख लाभ:-

  1. यह सैनिटरी नैपकिंस प्राप्त करने के लिए आपको कहीं पर भी जाने की आवश्यकता नहीं है सरकार द्वारा ऐसे प्रबंध किए गए हैं कि आपको यह घर पर ही मुहैया कराए जाएंगे|
  2. ग्राम स्तर के उद्यमी अपने गांव और कस्बे की स्कूली लड़कियों को मुफ्त में उपलब्ध करेंगे|
  3. लड़कियां अपने गांव के सीएससी केंद्र से भी इसका लाभ उठा सकते हैं
  4. देशभर में विभिन्न लघु उद्योग इस योजना से संबंधित सैनिटरी नैपकिंस बनाने के लिए लगे हैं जिसमें 8 से 10 महिलाओं को रोजगार दिया गया है|
  5. महिलाओं के लिए नई नई रोजगार के अवसर उत्पन्न हुए हैं|
  6. ग्रामीण इलाकों की महिलाओं के सेनेट्री नैपकिंस के फायदे बताए जाएंगे ताकि वे अधिक से अधिक इनका इस्तेमाल करें|
  7. मासिक धर्म के समय अधिक स्वच्छता और स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने के बारे में जानकारी महिलाओं को दी जाएगी
  8. सेनेटरी नैपकिन इस्तेमाल करने से महिलाएं गंभीर बीमारियों से दूर रहेंगी
  9. सरकार द्वारा सरकारी स्कूल की छात्राओं को फ्री में सैनिटरी नैपकिंस प्रदान किए जाने की व्यवस्था की गई है|
  10. सैनिटरी नैपकिंस इको फ्रेंडली होने के साथ-साथ इस्तेमाल में बहुत ही सुरक्षित है और आसान है|
  11. इस योजना के माध्यम से महिलाओं को लड़कियों को बहुत ही कम दामों पर सैनेट्री नैपकिंस उपलब्ध किया जाएगा|

स्त्री स्वाभिमान योजना 2019 रजिस्ट्रेशन:-

बहनों और माताओं यदि आप भी चाहते हैं कि आप भी इस योजना का लाभ उठाएं तो आपको इसके लिए पहले अपना रजिस्ट्रेशन करना होगा| रजिस्ट्रेशन करने के लिए आप सीएससी ऑनलाइन रजिस्टर कर सकते हैं| इसके अलावा आप अपने नजदीकी गांव की सीएससी केंद्र से भी इस योजना का लाभ उठा सकते हैं| स्त्री स्वाभिमान योजना का उद्देश्य भारत के राज्यों में स्त्रियों को मासिक धर्म से जुड़ी समस्याओं के बारे में शिक्षित करना है और सेनेटरी पैड के इस्तेमाल को बढ़ावा देना है। Stree Swabhiman अभियान के अंतर्गत उत्पादन इकाई स्थापित की जाएगी | जो 5 से 7 महिलाओं के लिए रोजगार का अवसर उत्पन्न करने में सहायक होगी |

टोल फ्री नंबर

NOTE:-अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए टोल फ्री नंबर पर कॉल करके भी आसानी से अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं| यहां पर फोन करने के लिए आपको किसी प्रकार का कोई भी शुल्क अदा करने की आवश्यकता नहीं है| यह निशुल्क सुविधा सरकार द्वारा जनता के लिए प्रदान की गई है |

उत्तर प्रदेश

माताओं और बहनों यह आपके स्वास्थ्य से जुड़ी समस्याओं को सुधारने के लिए सरकार क्या पहल है| इसका लाभ उठाएं यह केवल आपके लिए है| सरकार बहुत ही कम दामों पर सैनिटरी नैपकिंस महिलाओं तथा लड़कियों को उपलब्ध करा रहा है और इसका रेट अन्य कंपनियों की तुलना में बहुत ही कम है| इसलिए आप इसका इस्तेमाल करें और अपने आसपास में रह रहे लोगों को भी इसके बारे में जागरूक करें तथा उन्हें इसके इस्तेमाल के लिए प्रोत्साहित करें| इससे आप किसी की जिंदगी मैं होने वाली गंभीर बीमारी को उससे बचा सकते हैं धन्यवाद|

Registration Online

स्त्री स्वाभिमान सम्मेलन का उद्घाटन केंद्रीय मंत्री रवि प्रसाद जी द्वारा किया गया है| महिलाओं के उत्थान के लिए यह योजना शुरू की गई है| केंद्र सरकार का प्रमुख रूप से यही उद्देश्य है कि ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्र में रहने वाली महिलाओं को एक उचित वातावरण तथा सैनेट्री पैड का वितरण किया जा सके| स्त्री स्वाभिमान योजना के तहत देशभर में सेनेटरी नैपकिन का वितरण किया जाएगा| केंद्र सरकार का यह कदम महिलाओं के स्वास्थ्य की तरफ ध्यान देते हुए शुरू किया गया है| यह मुख्य रूप से मासिक धर्म में स्वच्छता के बारे में सुधार पर बल देगा| प्रधानमंत्री मोदी जी की यह महिला सशक्तिकरण को बढ़ावा देने की ओर अग्रसर है|
स्त्री स्वाभिमान योजना का पता है:-
Head office
CSC e governance service India live
Ministry of Electronics and information technology
Electronics Niketan,6, CGO Complex Lodhi Road
CGO Complex Pragati Vihar
New Delhi 110020

प्रधानमंत्री द्वारा स्कीम के स्वाभिमान को कायम रखने के लिए तथा उन्हें एक अच्छा जीवन प्रदान करने के लिए ही स्त्री स्वाभिमान योजना की शुरुआत की गई है इस योजना का प्रमुख उद्देश्य देश के ग्रामीण और दूरदराज के क्षेत्रों में रह रही महिलाओं तथा बेटियों को एक सेनेटरी पैड उपलब्ध करना है| इस योजना को शुरू करने का प्रमुख उद्देश्य यही है कि जो बेटियां मासिक धर्म से संबंधित बीमारियों से ग्रस्त होती हैं उसका कारण कपड़े का इस्तेमाल करना रहता है| स्त्री स्वाभिमान योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा फ्री में उन्हें सेनेटरी पैड दिए जाएंगे ताकि वह अपने स्वास्थ्य के साथ कोई भी खिलवाड़ ना करें|

बालिकाएं समाज की साफ सफाई में सबसे ज्यादा योगदान देते हैं और सैनिटरी नैपकिन के माध्यम से आसपास में बढ़ रही बीमारियों से भी निजात मिलेगा| बच्चे देश का भविष्य होते हैं एक बालिका तो अपने साथ साथ कम से कम करती है | परिवार में उसके स्वास्थ्य का सही रहना अत्यधिक आवश्यक होता है क्योंकि स्त्रियां ही परिवार को बनाए रखने का काम करती है|

PMU office
Project management unit
CSC e governance service india Limited
238 okhla Phase 3
New Delhi 110020
Email address- stree-swabhiman@ csc.gov.in

इस योजना के बारे में अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करें| अगर आपको इस योजना के बारे में ओर भी जानकारी चाहिए या इस योजना के अंतर्गत कोई प्रश्न है तो आप हमें Comment करके बता सकते है |

8 thoughts on “[Registration] स्त्री स्वाभिमान योजना 2020 | ऑनलाइन Application फॉर्म”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *