[ पंजीकरण ] रोजगार सेतु योजना 2020 MP आवेदन फॉर्म | ऑनलाइन आवेदन

रोजगार सेतु योजना: इस योजना के तहत राज्य के दूसरे राज्यों से लौटे लाभार्थियों को उनकी योग्यता के अनुसार काम दिया जाएगा| मुख्यमंत्री शिवराज चौहान के द्वारा राज्य के मजदूरों को सहायता प्रदान करने के लिए इस योजना को शुरू किया है इस योजना में ना केवल पुरुष वर्ग के लोग बल्कि महिलाएं भी भाग ले सकती हैं इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन का कार्य शुरू हो चुका है दूसरे राज्यों के कार्य करने वाले 500000 से अधिक प्रवासी श्रमिक प्रदेश वापस लौटे हैं उन सब को राज्य में ही रोजगार उपलब्ध करने के लिए सरकार का यह पहला कदम है|

रोजगार सेतु योजना 2020

योजना का नामरोजगार सेतु योजना
शुरू की गईमुख्यमंत्री शिवराज चौहान के द्वारा
लाभार्थीप्रदेश के श्रमिक
लाभरोजगार प्रदान करना
आवेदन की प्रक्रियाऑनलाइन तथा ऑफलाइन

शिवराज चौहान द्वारा सूचना दी गई है कि हमने रोजगार से तू ना बनाई है जिसके अंतर्गत कुशल मजदूरों को पंचायत में सूची बनाएं और उसके बाद हम श्रमिक प्लेटफार्म बनाएंगे जिस तरह का मजदूर जानते हैं उसे उस काम में लगाने की कोशिश की जाएगी| इसके साथ ही उन्होंने यह भी कहा है कि कोई मजदूर बाहर के प्रदेशों में काम करने जाएगा तो उसकी पूरी सूची हमारे पास रहेगी इसके लिए हम कलेक्टर को निर्देश दे रहे हैं कौन किस प्रांत में कहां है ताकि हम वहां की उसकी देखभाल ठीक ढंग से कर पाए|

ताजा खबरों के अनुसार 27 मई से ही मुख्यमंत्री शिवराज चौहान के द्वारा आदेश दे दिए गए हैं और इन श्रमिकों के सूची बनाने का कार्य भी शुरू कर दिया गया है वे सभी श्रमिक जिन्होंने अभी तक की सूची में अपना नाम दर्ज नहीं कराया है वे जल्द से जल्द अपनी सूची में दर्ज करें| इसके लिए आपको ऑनलाइन आवेदन करना होगा आवेदन करने की प्रक्रिया बहुत ही आसान है और आप घर बैठे यह कार्य कर सकते हैं|

रोजगार सेतु योजना 2020 आवेदन फॉर्म

रोजगार सेतु योजना
रोजगार सेतु योजना

शिवराज सिंह चौहान ने अपने ट्विटर अकाउंट में यह कहा है कि” हमने श्रमिक भाई बहनों और प्लेटफॉर्म खड़ा कर देंगे इस तरह दोनों एक दूसरे के पूरक बन जाएंगे। हमारी कोशिश है कि रोजगार सेतु के माध्यम से हम अधिकतम कुशल मजदूर भाई बहनों को रोजगार दिला पाए ताकि उनकी जिंदगी की गाड़ी ठीक ढंग से चल सके| देश के दूसरे राज्यों से लौटे भाई बहनों को रोजगार देने के लिए ही रोजगार सेतु योजना बनाई गई है| मजदूरों की योग्यता अनुसार ही उन्हें रोजगार की व्यवस्था की जा रही है|

उद्देश्य

  1. मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए इस योजना का प्रमुख उद्देश्य यही है कि गरीब तबके के लोगों को रोजगार प्राप्त किया जा सके।|
  2. रोजगार सेतु योजना के माध्यम से सभी श्रमिक भाई बहनों को सरकार द्वारा एक ही प्लेटफार्म पर लाया जाएगा ताकि उन्हें पहचाने तथा रोजगार देने में सहूलियत हो|
  3. मजदूर वर्ग के लोगों को उनकी योग्यता अनुसार ही रोजगार उपलब्ध किया जाएगा|
  4. प्रदेश सरकार का यह उद्देश्य है कि जो भी मजदूर वर्ग के लोग अन्य प्रदेशों से वापस लौटे हैं उन्हें प्रदेश में रोजगार के अवसर उपलब्ध किए जाएं|
  5. अनुमान के अनुसार प्रदेश में लगभग 500000 के करीब श्रमिक मजदूर अन्य देशों से वापस लौटे हैं सरकार उन्हें प्रदेश में योग्यता के अनुसार रोजगार प्रदान करेगी|
  6. इस रोजगार का लाभ नहीं बल्कि महिलाएं भी उठा सकती हैं|
  7. राज्य सरकार द्वारा यही उद्देश्य है कोविड-19 के इस समय में गरीब श्रमिकों को किसी प्रकार की आर्थिक समस्या ना हो और भी अपना भरण-पोषण कर सकें|

इस योजना के तहत सरकार द्वारा प्रदान किया जाएगा जो कि महाराष्ट्र, गुजरात, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पंजाब, तमिलनाडु, हरियाणा, कर्नाटका तथा राजस्थान से आए हैं| एक अनुमान के अनुसार मध्य प्रदेश में लगभग पिछले कुछ समय में 6 लाख से अधिक प्रवासी मजदूर प्रदेश लोटे हैं| कोविड-19 के प्रदेश में ही नहीं बल्कि पूरे देश में बेरोजगारी की समस्या उत्पन्न हो रही है और सभी मजदूर वर्ग अपने घरों की ओर प्रस्थान कर रही है| सरकार द्वारा यह अनुमान लगाया गया है कि लगभग प्रदेश के 13 लाख से अधिक मजदूर अन्य राज्यों में काम करते हैं| अब सरकार द्वारा उन सभी मजदूरों को अपने देश में ही इस संकट के समय में काम उपलब्ध करने का प्रावधान किया है|

प्रवासी कुशल श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध करने के लिए ही सरकार द्वारा रोजगार सेतु एप बनाई गई है सरकार ने यह बताया है कि इन सभी कुशल श्रमिकों को हम एक प्लेटफार्म के माध्यम से उद्यमियों के साथ जुड़ेंगे ताकि यह साथ मिलकर प्रदेश में कार्य कर सकें और देश को एक नई बुलंदियों तक पहुंचा सकें| कुशल कामगारों की सूची बनाने का कार्य भी प्रारंभ कर दिया गया है| उम्मीदवार जिन्होंने अभी तक समग्र पोर्टल पर अपनी आईडी नहीं बनाई है जल्द से जल्द अपनी समग्र आईडी बना ले|

रोजगार सेतु पात्रता

  • इस योजना का लाभ मध्यप्रदेश का प्रत्येक नागरिक उठा सकता है|
  • अन्य प्रदेशों से लौटे श्रमिक इस योजना के प्रमुख लाभार्थी रहेंगे|
  • गरीब तबके के लोग जो अपना भरण पोषण करने में असमर्थ है वे इस योजना का लाभ उठा सकते हैं|
  • बेरोजगार पुरुष तथा महिलाएं इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकती है|
  • श्रमिक वर्ग के लोग इस योजना के पात्र हैं|
  • “मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना” तथा “भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल” में पंजीकृत श्रमिक भी इस योजना के पात्र हैं|

रोजगार सेतु योजना ऑनलाइन आवेदन

बेरोजगार मजदूरों को पंचायत के आधार पर दिए गए सूची पर ही रोजगार उपलब्ध किया जाएगा| इन माइग्रेंट वर्कर्स के पास कुशल व्यवसाय से संबंधित दस्तावेज तथा अन्य कार्य में निपुण होना आवश्यक है अधिक जानकारी के लिए आप रोजगार हेतु पोर्टल पर प्राप्त कर सकते हैं| आवेदन करने के लिए आपको रोजगार हेतु पोर्टल पर दी गई जानकारी जैसे कि आपका पता, शिक्षा, प्रशिक्षण, पहले की नौकरी, सैलरी आदि का विवरण को भरना है और आसानी से आवेदन कर सकते हैं| इसके अतिरिक्त इन बेरोजगार श्रमिकों को MSME(लघु, मध्यम तथा छोटे उद्योगों ) के अंतर्गत भी काम उपलब्ध किया जाएगा| यह उद्योग इस योजना के लिए एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएंगे|

रोजगार सेतु के तहत रोजगार
भवन और अन्य निर्माण श्रमिक
कपड़ा बनाना
फैक्ट्री में कार्य करना
कृषि और संबद्ध गतिविधियां
ईट भट्ठा का कार्य करना
खनन का कार्य करना
अन्य सरकारी कार्य

प्रदेश के सभी प्रवासी मजदूर इस योजना के लाभार्थी हैं और वे इसके लिए आवेदन कर सकते हैं राज्य सरकार द्वारा लाभार्थी मजदूरों की सूची को तैयार किया जा रहा है| राज्य सरकार द्वारा लगभग 1000000 से लेकर 13 लाख तक प्रवासी बेरोजगार मजदूरों को रोजगार उपलब्ध करने का निश्चय लिया है| वे सभी मजदूर वर्ग के लोग जो अपने कार्य में निपुण है उन्हें यह रोजगार उपलब्ध किया जाएगा |यह सभी कार्य मध्य प्रदेश रोजगार सेतु योजना के अंतर्गत किया जाएगा| कामगारों को प्रदेश सरकार द्वारा पहले से ही श्रम सिद्धि अभियान योजना शुरू की है| जिसके अंतर्गत भी लोगों को सहायता प्रदान की जा रही है| इस योजना के तहत सरकार द्वारा माइग्रेंट वर्कर्स को कंस्ट्रक्शन कार्य में, फैक्ट्रीज में तथा अन्य व्यवसाय के साथ जोड़ा जाएगा|

महत्वपूर्ण दस्तावेज

इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए श्रमिक के पास कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों का होना भी अनिवार्य है| तभी वे इस योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं:-

आधार कार्ड
निवास प्रमाण पत्र
पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
मोबाइल नंबर
समग्र पोर्टल पर आईडी
वैलिड बैंक खाता
पंजीकरण दस्तावेज

रोजगार सेतु योजना पंजीकरण कैसे करें?

इस योजना के तहत सभी लाभार्थी कामगारों को मुफ्त में अनाज खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के अंतर्गत प्रदान किया जाएगा| इसके अतिरिक्त प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के अंतर्गत भी निशुल्क खाद्यान्न लोगों को उपलब्ध किया जाता है| बेरोजगार श्रमिकों को मनरेगा के तहत रोजगार उपलब्ध किया जाएगा विभिन्न सेक्टर जिनमें रोजगार उपलब्ध किया जाएगा उनका विवरण हमने इस आर्टिकल में आपको ब्लॉक किया है| इस योजना का लाभ उठा सकता है जिसके पास रोजगार का कोई साधन नहीं है|

रोजगार सेतु योजना के प्रमुख लाभ

  1. इस सेतु योजना का लाभ प्रमुख रूप से राज्य के स्थाई रूप से रहने वाले लोगों को दिया जाएगा|
  2. लाभ लेने के लिए ग्राम पंचायत के सचिव तथा नगरीय क्षेत्रों में बाढ़ प्रभारी सर्वे फार्म भरने से लाभार्थियों को यह सहायता प्रदान की जाएगी|
  3. इसके अतिरिक्त लाभार्थी को लाभ प्राप्त करने के लिए समग्र पोर्टल पर आईडी जनरेट करना भी अनिवार्य है|
  4. इस योजना से रोजगारी की समस्या बहुत हद तक कम होगी|
  5. इस योजना से प्रदेश में आर्थिक पक्ष मजबूत होगा|
  6. राज्य के श्रमिक वर्ग के बेरोजगार मजदूरों को रोजगार प्राप्त होगा|
  7. प्रदेश में काफी हद तक बेरोजगारी की समस्या पर रोकथाम होगी|
  8. राज्य में भी सभी श्रमिक जिनके पास अभी तक समग्र आईडी नहीं है उन सभी की आईडी जनरेट की जाएगी|
  9. इस योजना के तहत बेरोजगार लोगों को मनरेगा के तहत लाभ प्रदान किया जाएगा|
  10. इसके अतिरिक्त खाद्य विभाग द्वारा प्रधानमंत्री गरीब कल्याण योजना के निशुल्क खाद्य पदार्थों का लाभ प्राप्त होगा|
  11. लाभार्थी बैंक खाते में सीधे लाभ पहुंचाया जाएगा|

रोजगार हेतु आवेदन प्रक्रिया

  • वे सभी उम्मीदवार जो मध्य प्रदेश में रोजगार हेतु योजना का लाभ समग्र आईडी होना अनिवार्य है| उसके बाद ही श्रमिक का सत्यापन और पंजीकरण कार्य पोर्टल पर समग्र आईडी का उल्लेख करते हुए सुनिश्चित किया जाएगा|

Application Form/आवेदन पत्र : क्लिक करें

  • यहां पर आपको समग्र आईडी और आधार कार्ड नंबर अंकित करना होगा|
  • सर्वे और सत्यापन सभी आवेदन कर्ता श्रमिकों का किया जाएगा जो मुख्यमंत्री जन कल्याण योजना तथा भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल में पंजीकृत की पात्रता रखते हैं, उनका भी सत्यापन किया जाएगा|
  • 3 जून से पहले पोर्टल पर आवेदन करना होगा|
  • आवेदन करने के लिए आप ग्राम पंचायत के क्षेत्रों में फार्म भरने की सहायता करेंगे|
  • जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन में यह सारी कार्यवाही की जाएगी|
  • ग्रामीण क्षेत्र के लिए मुख्य कार्यपालन अधिकारी क्षेत्र के लिए आयुक्त द्वारा अधिकृत अधिकारी होंगे|

दोस्तों इस प्रकार आप बहुत ही आसानी से मध्य प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई रोजगार सेतु योजना का लाभ उठा सकते हैं। इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर अपने प्रश्न को हम से पूछ सकते हैं| हमारी टीम द्वारा जल्द से जल्द आपके सभी प्रश्नों के उत्तर दिए जाएंगे|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *