[50000 ₹] राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना रजिस्ट्रेशन 2020 | Application Form

राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना: शिक्षित बेरोजगार योजना की शुरुआत केंद्र सरकार द्वारा की गई है इस योजना को शुरू करने का प्रमुख उद्देश्य है कि पर सभी लोग कोरोना वायरस के कारण जिन्हें बहुत अधिक मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है तथा कई प्रकार की आर्थिक परेशानियों से गुजर रहे हैं इन सभी लोगों को शामिल किया जाएगा जो भी भारतीय है तथा विद माय किसान रोज काम करने वाले मजदूर पर के लोग इसके अतिरिक्त सभी लोग जो भारत में राशन कार्ड धारक हैं| इन सभी लाभार्थी लोगों को सरकार की तरफ से 50000 की सहायता प्रदान की जाएगी|

राष्ट्रीय सहायता ऑनलाइन प्रदान की जाएगी इसका नाम प्रत्येक व्यक्ति आवेदन करने के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं दोस्तों हम आपको यहां पर राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध देने जा रहे हैं कैसे आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं तो सरकार द्वारा क्या दिशा निर्देश दिए गए हैं इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिए इस योजना के लिए आपको क्या-क्या दस्तावेज की आवश्यकता पड़ेगी तथा घर बैठे आप कैसे इस योजना का लाभ प्राप्त करें।

Rashtriya Shikshit rojgar Yojana

राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना जैसे कि नाम से ही पता चल रहा है इस योजना को देश लोगों को सहायता प्रदान करना है वे सभी लोग जो इस महामारी के कारण घर पर बंद हो रहे हैं और उन्हें किसी भी प्रकार का कोई भी रोजगार नहीं है इस समय में सबसे अधिक आर्थिक दिक्कतों का सामना कर रहे हैं उन्हें खाने-पीने रहने की समस्या का सामना हो रहा है| ऐसे लोगों को केंद्र सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी सरकार द्वारा इसके लिए 50000 का पैकेज प्रदान किया जाएगा यह लाभार्थी के बैंक खाते में सीधा डाला जाएगा इसलिए जब भी आप इस योजना के लिए आवेदन करें तो यह अवश्य देख लें कि आपके पास अपना बैंक खाता होना अनिवार्य है यदि आपके पास अपना बैंक खाता नहीं है तो आवेदन करने से पहले आप बैंक में जाकर अपना आवेदन खाता जरूर खुलवा ले|

योजना के बारे में जानकारी

योजना का नाम- राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना
शुरू की गई- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
उद्देश्य- लोगों को आर्थिक सहायता प्रदान करना
लाभार्थी- विधवा, मजदूर, बेरोजगार युवा, ड्राइवर तथा वे सभी लोग जो कोविड-19 परेशानी झेल रहे हैं|
आवेदन- ऑनलाइन

हम सभी जानते हैं कि ना केवल भारत देश उनकी पूरी दुनिया कोविड-19 जैसी महामारी से जूझ रही है। भारत में लाखडाउन का तीसरा चरण चल रहा है और इस पर अन्य जनों के मुकाबले कुछ कम दिल दी गई है, बहुत ही जरूरी कामों के लिए बाहर जाया जा सकता है इसके अतिरिक्त विभिन्न प्रदेशों से लोग अपनी प्रदेश तथा घरों की तरफ प्रस्थान करें हैं लेकिन कई स्थानों पर लोगों को प्रस्थान करने से पहले मेडिकल टेस्ट तथा इसके अतिरिक्त क्वॉरेंटाइन से होकर गुजरना पड़ रहा है|

प्रधानमंत्री 50000 स्कीम

इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा उन लोगों की सहायता की जाएगी जो कि कोविड-19 के कारण बहुत अधिक दिक्कतों का सामना कर रहे हैं| नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा 26 मार्च को इस योजना की घोषणा की गई है और इस योजना को प्रदेश में पूरी तरह से चलाने के लिए लगभग 1.7 लाख करोड रुपए का पैकेट भी निर्धारित किया गया है| इसमें केवल उन्हीं लोगों को सहायता दी जाएगी जो निस्सहाय हैं जैसे कि विधवा, मजदूर वर्ग के लोग, ड्राइवर यह सभी लोग जो इस करुणा वायरस में घर में ही तरह करें गए हैं| तथा खाने-पीने के कोई भी साधन नहीं है उन्हें यह सहायता प्रदान की जाएगी| सरकार द्वारा यह भी बताया गया है कि इस योजना का लाभ पहले 40000 उम्मीदवारों को दिया जाएगा जो इस योजना के अंतर्गत आवेदन करते हैं|

जरूरी दस्तावेज

आधार कार्ड
शैक्षिक योग्यता
वार्षिक आय सर्टिफिकेट
पासपोर्ट साइज फोटोग्राफ
बैंक खाता डिटेल
आईएफएससी नंबर
हस्ताक्षर फोटोग्राफ्स
पिता का नाम
आयु से संबंधित जानकारी

बंदे भारत मिशन के तहत वे सभी लोग जो भारत के बाहर अन्य देशों में फंसे हुए हैं उन्हें प्रदेश तथा देश में वापस लाया जा रहा है और इस मिशन को बंदे भारत मिशन का नाम दिया गया है इन सभी लोगों को भारत में वापस लाकर 14 दिन के लिए विभिन्न स्थानों पर क्वॉरेंटाइन किया जाएगा उसके बाद ही इन्हें अपने घरों की ओर रवाना किया जाएगा। जैसा कि हम सभी जानते हैं कि कोविड-19 भारत में बल्कि पूरे विश्व में बुरी तरह से फैला हुआ है| जिसके सर चलते कई ऐसे स्थान में है जहां कई सारे लोगों को अपनी नौकरियों से भी हाथ धोना पड़ा है जिसमें बहुत से भारतीय भी हैं जो विभिन्न देशों में काम करते थे लेकिन वहां पर उनकी नौकरियां छूट गई है इससे उन्हें वहां पर रहने के लिए बहुत अधिक दिक्कतों का सामना भी करना पड़ रहा है इसी के मद्देनजर उन्होंने पीएम से अपील की थी कि वे उन्हें अपने भारत देश में वापस बुला ले ताकि उन्हें अधिक कठिनाई का सामना ना करना पड़े भारत सरकार द्वारा इस कदम को आगे बढ़ाते हुए उन्होंने विभिन्न प्रकार के हवाई मार्ग द्वारा तथा जल मार्ग द्वारा विभिन्न देशों से लोगों को भारत में वापस लाने के लिए प्रबंध किए हैं|

राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना आवेदन प्रक्रिया

सोशल मीडिया पर इन दिनों एक मैसेज वायरल हो रहा है जिस मैसेज में दावा किया जा रहा है कि केंद्र सरकार द्वारा एक पायलट प्रोजेक्ट शुरू किया गया है बताया गया है कि केंद्र सरकार राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना के तहत सभी राशन कार्ड धारकों को 50000 की राहत पैकेज प्रदान करेगी| क्या शिक्षित बेरोजगारों को योजना के तहत 50000 की आर्थिक सहायता मिलेगी इसके लिए कई सारे लोगों ने ऑनलाइन वेबसाइट पर आवेदन करने के लिए वोट भी लग गई है क्योंकि इसमें यह भी दर्शित किया गया है कि जो पहले 40000 लोग इस योजनाओं के आवेदन करेंगे उन्हें योजना का लाभ प्रदान किया जाएगा क्योंकि इस योजना में फर्स्ट कम फर्स्ट सर्व के आधार पर सहायता प्रदान की जाएगी।

राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना रजिस्ट्रेशन 2020

राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना
राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना

जैसा की सोशल मीडिया के मैसेज में बताया गया हे की इस योजना का लाभ उठाने के लिए सबसे पहले आपको दिए गए लिंक पर क्लिक करना है यहां पर आपको ऑनलाइन ऑप्शन का नजर दिखाई देगा इसमें सबसे पहले आपको अपना नाम, आधार कार्ड नंबर, पिता का नाम, जन्मतिथि, मोबाइल नंबर, पता, बैंक खाता नंबर, आईएफएससी नंबर, बैंक नंबर तथा अन्य जानकारी इसके अतिरिक्त शैक्षिक संबंधी जानकारी को भरना है और साथ ही अपनी फोटो को भी अपलोड करना है और इसके साथ ही सिग्नेचर वाले फोटो को भी अपलोड करना है|

ट्विटर पर दिए गए मैसेज में इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध है कैसी आप इसके लिए आवेदन कर सकते हैं इसके अतिरिक्त साथ में यह भी बताया गया है कि केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई योजना है इस अभियान का नाम राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना रखा गया है और इस योजना को कोविड-19 के खिलाफ जंग के लिए 50000 का भत्ता दिया जाएगा| इसके अतिरिक्त यह भी दावा किया गया है किसरकार ने राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना शुरू किया जिसमें सभी राशन कार्ड धारकों को 50000 का फंड दिया जाएगा लेकिन प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो फैक्ट चेक की अधिकारिक टि्वटर हैंडल से ट्वीट कर यह खबर दी गई है कि इस तरह का कोई भी प्रोजेक्ट तथा योजना सरकार द्वारा नहीं चलाई गई है|

राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना सच या झूठ

सोशल मीडिया पर बहुत अधिक फैले हुए इस मैसेज का सच क्या है यह हम आपको यहां पर बताने जा रहे हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू की गई यह योजना पूरी तरह से झूठे हैं और इस तरह की कोई भी योजना सरकार द्वारा शुरू नहीं की गई है किसी भी कार्ड धारक को ₹50000 का राहत पैकेज सरकार द्वारा नहीं दिया जा रहा है| इसकी जानकारी प्रेस इनफार्मेशन ब्यूरो फैक्ट के द्वारा ट्विटर के माध्यम से दी गई है|

पीआईबी के टि्वटर हैंडल से लिखा गया है,” सरकार ने राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना शुरू किया जिसमें सभी कार्ड धारकों को ₹50000 का राहत पैकेज दिया जाएगा यह दावा गलत है कि भारतीय सरकार द्वारा ऐसी कोई योजना लांच नहीं की गई है| इस तरह की किसी भी फेक न्यूज़ पर भरोसा ना करें और ना ही इस तरह ही साइट पर अपना व्यक्तिगत जानकारी को आप अपलोड करें क्योंकि यह आपके लिए ही भविष्य में मुश्किलें पैदा कर सकती है

उन्होंने यह भी बताया था कि इस तरह की पहली भी एक खबर को खिलाया गया था जिसमें लिखा था कि पीएम द्वारा लोगों को फ्री में मास्क वितरित किए जाएंगे अगर आपको व्हाट्सएप फेसबुक या किसी अन्य ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पैसे संदेश मिलता है तो सावधान रहें इस तरह की कोई भी स्कीम शुरू नहीं की गई है| इसके अतिरिक्त नरेंद्र मोदी जी ने बेरोजगारों के लिए एक बेरोजगारी भत्ता योजना है जिसके अंतर्गत प्रत्येक बेरोजगार को प्रतिमाह 3500 प्रदान किए जाते हैं| इस तरह की भी कोई भी योजना सरकार द्वारा नहीं चलाई गई है यदि आपको किसी भी माध्यम से ऐसी योजना की जानकारी मिलती है तो कृपया इस पर यकीन ना करें यह सरकार द्वारा चलाई गई कोई भी योजना नहीं है और यदि आप से कहीं पर भी आपके जरूरी दस्तावेजों को मांगा जाता है तो कृपया आप उन्हें जमाना करवाएं या भविष्य में आपके लिए मुश्किलें पैदा कर सकता है|

Rashtriya Shikshit Berojgar Yojana Application Form

भारत सरकार द्वारा देश में लोक डाउन का तीसरा चरण शुरू कर दिया गया है इस चरण में सरकार द्वारा बहुत डील भी दी गई है राज्य के बहुत से नागरिकों से दूसरे जगह पर आसानी से जा रहे हैं कई लोग अपने घरों की ओर प्रस्थान कर रहे हैं। सरकार द्वारा कोविड-19 को खत्म करने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है। हम भी अपना सहयोग घर पर रहते हुए सामाजिक दूरी का पालन करते हुए कर सकते हैं। जितना अधिक दूर हम लोगों के साथ रहेंगे उतना ही हम कोविड-19 को खत्म करने में दे पाएंगे। यदि हमें आसपास किसी के आने की सूचना मिलती है तो हमें तुरंत अधिकारियों को बताना आवश्यक है|

रजिस्ट्रेशन फॉर्म: क्लिक करे

40 दिनों से जारी लोक डाउन में कई प्रकार की गतिविधियां चल रही है जबकि कई प्रकार की कंपनियां तथा संस्थानों को बंद कर दिया गया है तथा उनकी सैलरी में भी कटौती की गई है कोरोना वायरस के कारण भारत की पूरी अर्थव्यवस्था पर बहुत अधिक असर पड़ा है। इस योजना के तहत यह दावा किया गया था कि सीनियर से बिहारी में रोजगार युवक और सभी राशन कार्ड धारकों को यह लाभ प्रदान किया जाएगा जबकि इस प्रकार की कोई भी योजना सरकार द्वारा नहीं चलाई गई है कृपया आप ही तरह की किसी भी सरकारी योजना की खबर पर विश्वास ना करें और ना ही अपनी जरूरी 10 जानकारी को यहां पर भरे इस प्रकार की कोई भी योजना में कोई भी सच्चाई नहीं है पड़ताल से पता चला है कि शरारती तत्वों द्वारा इस मैसेज को वायरल किया गया है| कृपया आप घर पर हैं और सामाजिक दूरी का पालन करें भारत सरकार द्वारा कोई भी योजना शुरू नहीं की गई है कि आई ने कहा है कि व्यक्तिगत जानकारियों रखने वाली नकली और धोखा वाली साइटों से सावधान रहें और इस तरह की खबर पर ध्यान ना दें|

सरकार द्वारा लोगों की सहायता के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है सरकार ने राष्ट्रीय शिक्षित बेरोजगार योजना शुरू नहीं की है| इसके अतिरिक्त आप के मन में कोई भी प्रश्न है तो आप हमें अवश्य नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स के माध्यम से पूछ सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *