PM Kisan Helpline Number [Toll Free Number] प्रधानमंत्री किसान योजना हेल्पलाइन नंबर

PM Kisan Helpline Number/प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना हेल्पलाइन नंबर: प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की निधि सभी किसानों के बैंक खाते में पहुंचना आरंभ हो गई है इससे किसानों में बहुत ही ज्यादा खुशी का माहौल है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत सरकार ने देश के किसानों के खाते में सीधे नकद राशि पहुंचाने की शुरुआत की है। इस योजना के अंतर्गत भारत सरकार द्वारा ₹6000 की सालाना रकम तथा ₹2000 की 3 किस्ते देने का फैसला किया है| इस योजना के अंतर्गत जनप्रतिनिधि तथा इनकम टैक्स के दायरे में आने वाले लोगों को शामिल नहीं किया गया है। दोस्तों आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के हेल्पलाइन नंबर के बारे में विस्तृत जानकारी देंगे। यदि किसी व्यक्ति को इस योजना से संबंधित समस्या का सामना करना पड़ रहा है तो वह संबंधित नंबर पर फोन कर अधिकारियों से बात कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं|

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत पूरे देश के लगभग 14 करोड किसानों को लाभ प्रदान किया गया है और अभी तक सिर्फ 6 करोड किसानों को किसान सम्मान निधि की अंतिम किस्त प्राप्त हुई है इस के मध्य नजर किसानों को अंतिम पृष्ठ को पाने के लिए हेल्पलाइन नंबर पर फोन करना पड़ रहा है| प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना 18 से 40 साल के किसान को प्राप्त होती है वे सभी किसान जो अभी तक इसकी निधि से वंचित रह रखे हैं विधि के अप्लाई नंबर पर फोन कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना किसानों के लिए शुरू की गई है। मोदी सरकार ने करुणा संक्रमण के संकट से लड़ने के लिए लोग डाउन के बीच किसानों को बहुत बड़ी राहत दी है। खेती बाड़ी का काम इसके लिए सरकार ने किसानों के खाते में 7 करोड किसानों को दो 2020 दिया गया है। बचे किसानों को भी राहत देने का पूरा प्रबंध सरकार द्वारा किया जा रहा है यह राहत राशि भारत सरकार द्वारा किसान सम्मान निधि योजना के अंतर्गत रजिस्टर्ड किसानों को भेजी गई है केंद्रीय कृषि राज्य मंत्री कैलाश चौधरी ने डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के माध्यम से किसानों को ₹140000000 भेजे जाने की पुष्टि की है।

PM Kisan Helpline Number

PM Kisan Helpline Number
PM Kisan Helpline Number

केंद्र के सूत्रों के अनुसार 9 करोड़ किसानों के अकाउंट में करीब ₹18000 की राशि भेजी जानी है| खास बात यह है कि पैसा उन्हीं किसानों को मिल पा रहा है जिनका स्कीम के तहत आधार वेरिफिकेशन हो चुका है| जैसा कि हम सभी जानते हैं कि इस योजना के तहत रजिस्ट्रेशन सीएससी सेंटर के माध्यम से किया जा रहा है सभी लाभांवित किसान इस योजना का लाभ उठा रहे हैं| जिन भाइयों को प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की तीन किसने मिल चुके हैं उन्हें चौथी किस्त भी भेजनी है सरकार ने शुरू कर दी है अगर आपको भी अभी तक 3 रिश्ते मैं तो आपको चौथी किस्त का स्टेटस चेक कर सकते हैं सरकार द्वारा इस समय किसानों को पूरी सहायता देने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है|

Check here: Full helpline number

वे सभी किसान भाइयों पीएम किसान सम्मान निधि योजना फार्म में सुधार करना चाहते हैं जैसे खाता नंबर आईएफएससी कोड नाम आदि सीएससी केंद्र में जाकर कर सकते हैं यह बदलाव किसानों के आवेदन फार्म में गड़बड़ी को देखते हुए किया गया है सरकार द्वारा यह सर्विस जल्दी सीएससी क्षेत्रों में उपलब्ध की जाएगी ताकि उन्हें किसी प्रकार की कोई परेशानी ना हो और वह अपने बालों में सुधार कर सके| देश के बीच सभी किसान जिन्होंने अभी तक आवेदन नहीं किया है वह समय रहते अपना आवेदन करते । पीएम किसान योजना के लिए आवेदन में की जाने वाली गलतियों का सुधार आसानी से किया जा सकता है।

पीएम किसान योजना सुधार की प्रक्रिया

देश के सभी किसान जो योजना के अंतर्गत अपने फार्म में सुधार करना चाहते हैं उन्हें विभाग के अधिकारी वेबसाइट पर जाना होगा आवेदन करते समय या फिर आवेदक के द्वारा भरते समय किसी प्रकार के कारण में गलती हो गई है तो आप सुधार सकते हैं । हम आपको यहां पर कुछ चरण उपलब्ध करेंगे जिनको फॉलो करके आप आसानी से यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

  1. प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना में सुधार करने के लिए सबसे पहले आपको विभाग के अधिकारी व्यवसाय पर जाना है।
  2. अब आपको होम पेज में फार्मर कॉर्नर के ऑप्शन पर क्लिक करना है|
  3. अब आपके सामने आधार डिटेल यानी “आधार की जानकारी सही करें” पर क्लिक करें| अब आप अपना आधार नंबर भर दीजिए तथा दिए गए साथ में कैप्चा कोड को भरकर सर्च बटन पर क्लिक कर दीजिए। इसके बाद आप अपना आवेदन फॉर्म आपके सामने खुल जाएगा इसमें आप अपनी गलती को सुधार बहुत ही आसानी से कर सकते हैं|

प्रधानमंत्री किसान योजना हेल्पलाइन नंबर

प्रदेश के किसानों यदि आपको इस योजना से संबंधित पैसा मिलने में किसी प्रकार की कोई परेशानी का अनुभव हो रहा है तो आप लेखपाल कांगो और जिला कृषि अधिकारी से भी संपर्क कर सकते हैं। अगर फिर भी आपको किसी प्रकार की कोई दिक्कत का सामना करना पड़ा है तो केंद्रीय कृषि मंत्री की ओर से जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर पर आप संपर्क कर सकते हैं। प्रधानमंत्री सम्मान निधि योजना से जुड़ी किसी भी शिकायत के लिए पीएम किसान हेल्पलाइन शुरू किया गया है आप अधिकारियों से संपर्क कर इसके अतिरिक्त आप मेल भेजकर भी अधिकारियों से संपर्क कर सकते हैं और अपने मन की बात कह सकते हैं।

हेल्पलाइन नंबर है- 155261 और अन्य नंबर 1800115526
ईमेल आईडी-pmkisan-ict@gov.in

इस्लाम के समय में आम जनता को बहुत अधिक परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है वहीं किसानों को भी समय पर बीज ना मिलने से कई तरह की कठिनाइयां सामने आ रहे हैं । प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत ₹200 की किस्त इस योजना के पात्र किसानों के खातों में अप्रैल के पहले सप्ताह में ही भेज दी गई है और बचे हुए किसानों के खातों में भी इसे डाल दिया जाएगा| दोस्तों यदि आपको योजना से संबंधित किसी प्रकार की कोई भी परेशानी आ रही है, तो आपको सरकार द्वारा जारी किए गए हेल्पलाइन नंबर से आप बात कर अपनी समस्या का समाधान आसानी से कर सकते हैं|

कृषि मंत्रालय के सूत्रों के अनुसार बचे गए किसानों को जल्द ही रकम जारी हो जाएगी तथा करीब 9 करोड की सा ₹2000 भेज दिए गए हैं| आजादी के बाद पहली बार किसानों के अकाउंट में डायरेक्ट पैसे भेजे जा रहे हैं| इस योजना के तहत किसानों के लिए सालाना ₹6000 की मदद करने का प्रावधान है|

दोस्तों यदि दिए गए हेल्पलाइन नंबर पर आपको किसी प्रकार की जानकारी से संतुष्टि नहीं मिलती है तो आपके सरकार द्वारा शुरू किए गए पीएम किसान हेल्प डेस्क नंबर पर भी फोन कर सकते हैं केंद्र सरकार द्वारा शुरू किया गया यह नंबर किसानों के हित में ही शुरू किया गया है ताकि उन्हें किसी प्रकार की कोई भी परेशानी ना हो।
हेल्पलाइन नंबर- 011 23381092, 91-11-23382401

दोस्तों यह जानकारी थी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना हेल्पलाइन से संबंधित। उम्मीद है आपको यह जानकारी सहायक लगी है। अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट कर संपर्क कर सकते हैं

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *