MSME Registration 2020 application form Registration procedure & criteria

MSME Registration 2020, MSME Registration process, MSME Registration Eligibility Criteria, MSME Helpline number, Benefit of MSME

प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी द्वारा आत्मनिर्भर भारत अभियान की शुरुआत 12 मई 2020 को की गई है| इस पर रोशनी करते हुए वित्त मंत्री उर्मिला सीतारमण द्वारा प्रेस कॉन्फ्रेंस के पहले दिन दिए गए भाषण में उन्होंने एक आत्मनिर्भर भारत अभियान के अंतर्गत भारत को और सुदृढ़ बनाने के लिए भारत की लघु मध्यम कुटीर उद्योगों को अधिक सक्षम बनाने की ओर बल दिया है| कैसे लघु मध्यम कुटीर वर्ग के उद्योग अधिक सक्षम अधिक प्रयास सकते हैं| देशवासियों के लिए यह आर्थिक पैकेज है जिसका लाभ प्रमुखता श्रमिकों, किसानों, ईमानदार करदाताओं, लघु मध्यम कुटीर उद्योगों को दिया जाएगा| करोड़ों लोगों की आजीविका का साधन MSMEs उद्योग का विस्तार ही इस पैकेज का एक प्रमुख आधार है|

MSME Registration 2020

एक आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत एक विशेष आर्थिक पैकेज की घोषणा की है जोकि जीडीपी का लगभग 10% है| पीएम द्वारा दिए गए घोषणा में उन्होंने कहा है कि इस पैकेज के माध्यम से आर्थिक लाभ भारत की जनता को दिया जाएगा| 20 लाख करोड़ का यह पैकेज 2020 में देश की विकास यात्रा को नई गति देगा| इस आर्थिक पैकेज से विभिन्न विभागों को सहायता प्राप्त होंगे विभिन्न कंपनियों को अतिरिक्त लोन प्रदान किया जाएगा| निश्चय ही कोविड-19 देश के लिए यह संपन्नता का काम करेगा। समृद्ध और संपन्न भारत के निर्माण में आत्मनिर्भर भारत अभियान निश्चय ही एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाएगा| इस योजना का प्रमुख उद्देश्य 130 करोड़ भारतवासियों को आत्मनिर्भर बनाना है|

एक आत्मनिर्भर भारत अभियान

  • योजना का नाम- आत्मनिर्भर भारत अभियान
  • शुरू की गई- प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी
  • योजना का प्रकार- केंद्र सरकार
  • लाभार्थी- भारत का प्रत्येक नागरिक
  • उद्देश्य- समृद्ध भारत का निर्माण
  • कुल धनराशि- 20 लाख करोड़

एमएसएमई रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया

कोरोना वायरस के कारण हमारे देश की अर्थव्यवस्था बुरी तरह से डगमगा चुके हैं| जिसे अब पटरी पर लाना बहुत ही आवश्यक है। कोरोना वायरस से भारत देश लगभग 4 महीने से जूझ रहा है| भारत सरकार द्वारा देश के प्रत्येक नागरिक को आर्थिक सहायता प्रदान करने का निश्चय किया है जिसके अंतर्गत प्रदेश के प्रत्येक लघु व्यवसाय सूक्ष्म व्यवसाय तथा मध्यम उद्योगों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| इसके अतिरिक्त प्रदेश के किसानों मजदूरों तथा प्रत्येक वर्ग के नागरिक को आत्मनिर्भर बनाने में सरकार द्वारा पूरी सहायता की जाएगी| केंद्र सरकार द्वारा दी गई इस सहायता से आप अपने व्यवसाय को और अधिक आगे बढ़ा सकते हैं इससे देश की प्रगति में भी सहायता मिलेगी|

प्रधानमंत्री मोदी द्वारा पांच स्तंभ को बनाने की बात की गई है जो भारत को आत्मनिर्भर बनाने में एक अहम भूमिका निभाते हैं इन पांच स्तंभ के मजबूत होने से हमारा देश आत्मनिर्भर बनेगा|

  1. पहला स्तंभ इकॉनमी– प्रधानमंत्री मोदी देश में ऐसी कौन सी चाहते हैं जिससे क्वांटम जाए।
  2. दूसरा स्तंभ इंफ्रास्ट्रक्चर– ऐसा इंफ्रास्ट्रक्चर जो आधुनिक भारत की पहचान हो और भारत को और अधिक मजबूत करें।
  3. तीसरा स्तंभ सिस्टम– जो 21वीं सदी के सपने को साकार करने वाली तकनीक पर आधारित हो|
  4. चौथा स्तंभ डेमोग्राफी– जो कि हमारी ताकत है और हमें ऊर्जा प्रदान करती है|
  5. पांचवां स्तंभ डिमांड– डिमांड और सप्लाई हमारी ताकत है हमें केवल पूरी क्षमता से इसके इस्तेमाल की आवश्यकता है।

MSME Registration 2020

MSME Registration 2020
MSME Registration 2020

छोटी कंपनियों तथा उद्योगों को प्रमुखता देने के लिए सरकार ने इस योजना के तहत बहुत बड़ा बजट प्रस्तुत किया है। बैंकों द्वारा बिना किसी महत्वपूर्ण दस्तावेज के उद्योगपतियों को लोन उपलब्ध किया जाएगा| लोन देने की रिटर्न डेट भी 4 साल तक निर्धारित की गई है इसके अतिरिक्त 1 साल तक किसी प्रकार का कोई भी ब्याज दर मालिक को नहीं देना होगा। अब बैंकों द्वारा लोन लेना आसान हो जाएगा| आसानी से बेरोजगार युवा लोन के माध्यम से अपना व्यवसाय शुरू कर सकते हैं। 20 लाख करोड़ के राहत पैकेज में प्रमुख रूप से मिडिल क्लास को प्रमुखता दी गई है।

पात्रता

  • विनिर्माण और सेवा उद्योग में उद्यम अधिकतम सीमा से अधिक नहीं होना चाहिए अन्यथा इसे लघु कुटीर मध्यम उद्योग के अंतर्गत नहीं माना जाएगा|
  • सेवा उद्यमों को संयंत्र और मशीनरी में 5 करोड रुपए से अधिक का निवेश करना होगा|
  • जिन उद्योगों में मशीनरी और प्लांट में 10 करोड से कम का इन्वेस्टमेंट किया है वह इसके अंतर्गत नहीं आएंगे|

निर्मला सीतारमण द्वारा बुधवार को दिए गए भाषण में यह घोषणा की है कि 3 महीने प्रतिशत इन हैंड सैलेरी बढ़ाई जाएगी साथ ही 11 वेतन पेमेंट पर टीडीएस कटौती की दर 25 फ़ीसदी कम रहेगी, इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने के लिए 4 महीने की अधिक मोहलत दी जाएगी इससे मध्यम वर्ग को काफी अधिक राहत मिलेगी| इसके अतिरिक्त सभी बिल्डर जिनका रजिस्ट्रेशन अथवा प्रोजेक्ट पूरा होने की तारीख कोरोना संकट के आसपास थी उन्हें बिना किसी आवेदन के 6 महीने की मोहलत दी जाएगी|

MSME Registration Procedure

MSME Registration 2020: आज कोविड-19 पूरा भारत लड़ रहा है| कोविड-19 महामारी से दिन प्रतिदिन मौतों की संख्या बढ़ रही है| सरकार द्वारा इसे रोकने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है| इस समय भारत में लोक डाउन का तीसरा चरण चल रहा है जबकि चौथे चरण का आगाज भी कई राज्यों के द्वारा कर दिया गया है। लोक डाउन के कारण जहां हमारी अर्थव्यवस्था बुरी तरह से बिगड़ चुकी है उसी के बीच सरकार के द्वारा कमजोर वर्ग के लोगों को आर्थिक जाने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान को शुरू किया है। आत्मनिर्भर भारत अभियान के तहत सरकार द्वारा 20 लाख करोड़ रुपए का पैकेज निर्धारित किया गया है|

महत्वपूर्ण दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • रेंट एग्रीमेंट
  • प्रॉपर्टी पेपर
  • कैंसिल चेक
  • पैन कार्ड
  • कंपनी रजिस्ट्रेशन सेल

MSME Registration Eligibility criteria

मुख्यमंत्री उर्मिला सीतारमण के द्वारा दिए गए भाषण में उन्होंने लघु, कुटीर मध्यम वर्ग के उद्योगों को अधिक बढ़ावा देने तथा उन्हें प्रोत्साहन देने को कहां है इसके तहत सरकार द्वारा लघु तथा कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देना ही इस प्रोजेक्ट का प्रमुख उद्देश्य है। इसके साथ ही रेडी पटरी वालों को विशेष सहायता प्रदान की जाएगी| लघु छोटे और मध्यम वर्ग के उद्योग भारत की इकॉनमी को बढ़ाने में एक अहम भूमिका निभाते हैं। वे सभी लोग जो इन उद्योगों के माध्यम से लाभ प्राप्त करना चाहते हैं वह यहां पर अपना रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं, रजिस्ट्रेशन करने से संबंधित संपूर्ण जानकारी हम आपको यहां पर उपलब्ध करने जा रहे हैं।

MSMEs इंडस्ट्रीज को दो भागों में बांटा जाता है :

  1. एक निर्माण
  2. सेवा नियम

विनिर्माण क्षेत्र के उद्योगों को संयंत्र और मशीनरी में 10 करोड़ से कम और सेवा क्षेत्र के उद्यमों के लिए 5 करोड़ की आवश्यकता है। सरकार द्वारा 15000 से कम वेतन पाने वाले कर्मचारियों के लिए भी सहायता प्रदान की है| उनके नियोक्ता दोनों के हिस्से में 12 12% ईपीएफ खाते में जमा कराने की स्कीम को 3 मई बढ़ा दिया गया है| इसके अतिरिक्त जिन कंपनियों में 100 से कम कर्मचारी हैं उनके 15000 से कम सैलरी वाले कर्मचारियों को वर्ष तक 24% सैलरी ज्यादा मिल सकेगी। इसके साथ ही कंपनियों के लिए ईपीएफ में कर्मचारियों के मूल वेतन के 12% की जगह इसे 10% रकम ही कर्मचारी की ओर से ईपीएफ खाते में जमा होगी| इससे कर्मचारियों को इन हैंड सैलेरी अधिक मिलेगी|

एमएसएमई रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन/MSME Registration 2020

  • ऑनलाइन रजिस्टर करने के लिए सबसे पहले आपको अधिकारिक वेबसाइट MSMEs पर जाना है|
  • अब आपको यहां पर दिए गए लिंक एमएसएमई रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन पर क्लिक कर देना है|
  • आपके पास एप्लीकेशन फॉर्म खुल जाएगा इसमें दी गई जानकारी को भर दीजिए।
  • आवेदनकर्ता को एमएसएमई की तरफ से एक सर्टिफिकेट दिया जाएगा यह सर्टिफिकेट आवेदन कर्ता को केवल 2-3 दिन काम करने के बाद ही प्रदान किया जाता है|
  • यह सर्टिफिकेट निर्माण और सेवा नियम दोनों के लिए ही लागू होता है|

MSME Registration Eligibility Criteria

वित्त मंत्री द्वारा 2020 के लिए पर्सनल इनकम टैक्स रिटर्न और अन्य रिटर्न की डेडलाइन 30 जुलाई से बढ़ाकर 30 नवंबर 2020 कर दी गई है| इसके साथ ही विवादों के निपटान के लिए लाई गई विवाद से विश्वास योजना का लाभ भी बिना किसी अतिरिक्त शुल्क के 31 दिसंबर 2020 तक लोगों को मिल पाएगा|बिजनेस और बरकत के लिए ईपीएफ स्पॉट के रूप में 2500 करोड का ऐलान भारत सरकार द्वारा किया गया है| प्रधानमंत्री गरीब कल्याण पैकेज के तहत स्पॉट को बढ़ावा देखकर अगस्त 2020 तक कर दिया गया है। वित्त मंत्री द्वारा किए गए ऐलान में MSMEs को दिए जाने वाले कर्ज को लौटाने के लिए 1 साल की मोहलत दी जाएगी| दबाव वाले MSMEs को 20,000 करोड़ रुपए का कर्ज़ प्रदान किया जाएगा| इससे दो लाख से ये सेक्टर लाभान्वित होंगे|

upmsme

इसके लिए 20000 करोड रुपए सब-ऑर्डिनेट दिया जाएगा| एमएसएमई के लिए 50000 करोड़ रुपए इक्विटी इन्फ्यूजन किया जाएगा। एमएसएमई की परिभाषा बदली गई है| 200 करोड रुपए के लिए ग्लोबल टेंडर की अनुमति नहीं है| छोटे तथा मध्यम वर्ग के उद्योगों के लिए इ-मार्केट लेकर । 10 इयर्स में उनकी भागीदारी सुनिश्चित की जाएगी इसके अतिरिक्त सरकारी और सार्वजनिक क्षेत्र की कंपनियों के पास उनका बकाया है तो अगले 45 दिनों में बकाया भुगतान करने की कोशिश की जाएगी| इस तरह की पहली बार राहत पैकेज की घोषणा की गई है जिसमें अकाउंट में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर की सुविधा प्रदान की जाएगी|

दोस्तों यह जानकारी है प्रधानमंत्री द्वारा शुरू किए गए राहत पैकेज से संबंधित जिसमें प्रमुख रुप से छोटे मध्यम वर्ग के उद्योग शुरू करने वाले उद्योग पतियों को और अधिक लाभ दिया जाएगा यदि आपको आवेदन से संबंधित कोई परेशानी होती है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में कमेंट के माध्यम से संपर्क कर सकते हैं|

2 thoughts on “MSME Registration 2020 application form Registration procedure & criteria”

  1. अरविन्द भारद्वाज

    मुझे व्यवसाय की प्रगति हेतू ऋण चाहिए !
    मार्गदर्शन करें !
    दीर्घकाल से प्रतीक्षारत !

    जय हिंद !

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *