[ Haryana ] मेरी फसल मेरा ब्यौरा पंजीकरण | ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन

मेरी फसल मेरा ब्यौरा हरियाणा: हरियाणा सरकार द्वारा एक नियम पोर्टल मेरी फसल मेरा ब्यौरा की शुरुआत की है| इसके माध्यम से हरियाणा के रहने वाले किसानों को काफी अधिक राहत मिलेगी आसानी से मिस पोर्टल पर सारी जानकारी प्राप्त कर सकते हैं| अब इस पोर्टल के माध्यम से हरियाणा के रहने वाले किसान पंजीकरण तथा सकते हैं उन्हें की आवश्यकता नहीं है घर पर ही काम आसानी से कर सकते हैं| किसानों का काम एक ही जगह पर अधिक सुविधा के साथ हो जाएगा|

हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई मेरी फसल मेरा ब्योरा पंजीकरण के माध्यम से प्रदेश की जनता को बहुत अधिक फायदा पहुंच रहा है| कृषि एवं किसान कल्याण विभाग द्वारा फसलों के वीरों को ऑनलाइन पोर्टल पर उपलब्ध कराने से लोगों को बहुत अधिक सहूलियत हुई है| इस पोर्टल पर किसान आसानी से फसलों के नाम का पता लगा सकते हैं ताकि वे अपनी फसलों का उचित दाम प्राप्त कर सकें| इसके साथ किसान खुद भी इस पोर्टल पर जाकर आसानी से मंडी में चल रही है भाव को देख सकते हैं यह किसानों को हरियाणा सरकार द्वारा दी जाने वाले बहुत ही बड़े सौगात है| इससे किसान आसानी से बेहर किस्म के बीजों तथा दामों का पता आसानी से घर बैठे देख सकते हैं अपने लैपटॉप, फोन के माध्यम से देख सकते हैं|

मेरी फसल मेरा ब्योरा
मेरी फसल मेरा ब्योरा

हरियाणा सरकार द्वारा शुरू किया गया यह पोर्टल किसानों को बिजाई कटाई का समय और मंडी संबंधित सारी जानकारी उपलब्ध करेगा| इससे किसानों को अच्छे भाव की जानकारी आसानी से प्राप्त हो जाएगी और फसल का अच्छा भाव प्राप्त कर सकते हैं| इस पोर्टल पर किसानों को कृषि से संबंधित जानकारियां आसानी से प्राप्त हो जाएगी इसके अतिरिक्त खाद्य बीज एवं कृषि उपकरणों से संबंधित जानकारी भी उपलब्ध रहेगी| इसके अतिरिक्त प्राकृतिक आपदा के समय भी किसानों को उचित मदद सरकार द्वारा की जाएगी| इस पोर्टल के माध्यम से हम आपको मेरी फसल मेरा ब्यौरा की सारी जानकारी उपलब्ध करेंगे इसका फायदा कैसे घर बैठे उठा सकते हैं|

प्रमुख लाभ

आसानी से बोई जाने वाली फसलों का दाम आसानी से प्राप्त कर सकते हैं, साथ ही वह इसका अच्छा भाव भी प्राप्त कर सकते हैं| बीएलई में सभी फसलों का विवरण ऑनलाइन दर्ज किया जाता है जिससे भी किसानों को अधिक सहूलियत मिलेगी| इस कार्य को करने के लिए प्रदेश सरकार द्वारा सीधे उनके खाते में भुगतान दिया जाता है| इसके साथ ही किसान खुद भी इस पोर्टल पर जाकर आसानी से फसलों का ब्यौरा प्राप्त कर सकते हैं|

इस पोर्टल में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के साथ सभी सूचनाओं को साझा किया जा सकता है| इसके साथ ही जमाबंदी संबंधित सूचना भी पटवारियों के साथ सांझा की जा सकती है| इससे किसानों की खरीद प्रक्रिया आसान हो जाएगी| खरीफ फसलों का ब्यौरा किसान ऑनलाइन भी दे सकते हैं|

मेरी फसल मेरा ब्योरा

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल की ऑनलाइन व सूचना प्रौद्योगिकी के अधिक से अधिक उपयोग से देश में डिजिटलाइजेशन को बढ़ावा मिलेगा| इसके साथ ही किसानों को कृषि से संबंधित नई नई जानकारी में आसानी से उपलब्ध हो जाएगी| कृषि एवं किसान कल्याण विभाग ने फसलों का ब्यौरा ऑनलाइन पोर्टल पर ऑनलाइन दर्ज करवा सकते हैं|

मेरी फसल मेरा ब्योरा के अंतर्गत आई जानकारी के अनुसार अभी तक जिले में 6693 3 किसानों ने ही पंजीकरण किया है। हरियाणा जिले में लगभग 555000 किसानों ने अपनी जमीनों का ब्यौरा दिया है । महेंद्रगढ़ जिले में सबसे अधिक लोगों ने पंजीकरण सरसों की फसल के लिए किया है जहां पहले आवेदन करने की अंतिम तिथि 31 दिसंबर निर्धारित की गई थी लेकिन उसे बढ़ाकर जनवरी माह के 15 तक कर दिया गया है । अभी आपके पास समय बहुत कम है जल्द से जल्द अपना पंजीकरण करवा दीजिए और अपनी फसलों को न्यूनतम समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए किसानों को अपनी फसलों का ब्यौरा देने देना भी अनिवार्य है पंजीकरण कराने वाले किसानों को एक यूनिट नंबर दिया गया है इस नंबर के अनुसार किसानों को फसल की खरीद के समय टोकन नंबर दिए जाएंगे पूर्णविराम जिले में करीब 78000 हेक्टेयर में सरसों की फसल है|

ऑनलाइन कार्य करने का काम गांव में स्थित बीएलइं पर उपलब्ध करने से किसानों को बहुत अधिक सहायता प्राप्त होगी| किसान खरीफ फसलों का ब्यौरा इससे प्राप्त किया जाएगा| जिनके लिए उन्हें ₹5 प्रति खेवट की दर से भुगतान किया जाएगा|

हरियाणा सरकार रजिस्ट्रेशन फॉर्म 2019

  1. हरियाणा मेरी फसल मेरा ब्यौरा में ऑनलाइन आवेदन करने के लिए सबसे पहले आपको विभाग की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है|
  2. ऑनलाइन पंजीकरण करने के लिए वेबसाइट पर जाकर पंजीकरण के लिंक पर क्लिक करना है|
  3. अब आपके सामने किसान पंजीकरण फार्म खुल जाएगा|
  4. अब रजिस्ट्रेशन के लिए क्रमवार पूछी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक भर दीजिए|
  5. इस फार्म में पंजीकरण संख्या अधिक भरी जाएगी इसे संभाल कर अपने पास रखें यह भविष्य में आपके काम आएगी|

हरियाणा सरकार द्वारा इस योजना को शुरू करने का प्रमुख सदस्य किसान का पंजीकरण फसल का पंजीकरण और खेत का ब्यौरा प्राप्त करना है ताकि किसानों के लिए एक ही जगह पर सारी सुविधाओं की उपलब्धता और समस्या निवारण का प्रयास किया जा सके। आपदा के दौरान सही समय पर सहायता दिलाना ही सरकार का प्रमुख उद्देश्य है फसल की बिजाई कटाई का समय और मंडी संबंधित जानकारी उपलब्ध करना| इसके अतिरिक्त कृषि संबंधी जानकारियां समय पर उपलब्ध करना खाद्य बीज एवं कृषि उपकरणों की सब्सिडी समय पर उपलब्ध करना।

मेरी फसल मेरा ब्योरा पोर्टल के माध्यम से भूमि और फसल से संबंधित मुहावरे और सब्सिडी की तमाम जानकारी किसानों को दी जाएगी। रजिस्ट्रेशन करने वाले किसानों को सरकारी योजनाओं का लाभ दिया जाएगा ताजा जानकारी के अनुसार इस योजना के तहत जिले में लगभग 66933 लोग होते 10 किसानों ने अपना पंजीकरण करवा लिया है पूरे प्रदेश में करीब 555000 किसानों ने अपनी फसलों का ब्यौरा दिया है| इस योजना के तहत पंजीकरण कराने वालों की फसल को ही समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा महेंद्रगढ़ जिले में सबसे अधिक पंजीकरण सरसों की फसल का किया गया है| सरकार द्वारा जहां पहले दिसंबर पंजीकरण की अंतिम तिथि रखी गई थी वहीं अब इसे बढ़ा दिया गया है| अब किसान इसके लिए आवेदन कर सकते हैं किसानों का पंजीकरण करने के बाद उन्हें एक यूनिक नंबर दिया जाएगा| इस नंबर के अनुसार किसानों को फसल की खरीद कर दिए जाएंगे जिले में करीब 78000 में सरसों की फसल है|

हरियाणा देशवासियों को हरियाणा सरकार द्वारा शुरू की गई मेरी फसल मेरा से संबंधित जानकारी कैसी लगी| आप हमें अवश्य बताएं इसके अतिरिक्त आपके मन में यदि इस आर्टिकल से संबंधित कोई भी प्रशन है, तो आप हमें नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट के माध्यम से पूछ सकते हैं| हम आपके प्रश्नों का उत्तर अवश्य देंगे|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *