[पंजीकरण] पशुपालन लोन महाराष्ट्र 2020 Maharashtra Pashupalan Yojana

पशुपालन लोन महाराष्ट्र 2020: महाराष्ट्र सरकार द्वारा किसानों के आय में बढ़ोतरी के लिए एक नई योजना की शुरुआत की है| महाराष्ट्र सरकार द्वारा प्रदेश के किसानों को देखते हुए जिनकी आजीविका पशुपालन पर ही निर्भर करती है| इसी को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने महाराष्ट्र पशु वर्धन विभाग का गठन किया है|

इस विभाग का प्रमुख उद्देश्य यही है कि किसानों की खेती बाड़ी की गुणवत्ता को और अधिक बढ़ाया जा सके साथ ही पशुओं के बारे में अधिक से अधिक जानकारी किसानों को दी जा सके ताकि वे उनके दूध आदि में इजाफा कर सकें जिससे की उन्हें अधिक मुनाफा मिले| इससे ना केवल किसानों पशुओं से अधिक कमाई कर पाएंगे बल्कि उनके जीवन स्तर में भी सुधार आएगा| पशुपालन में प्रमुख रूप से गाय पालन, भैंस पालन, बकरी पालन, कुकुट पालन तथा भेड़ पालन पर बल अधिक दिया जाता है|

महाराष्ट्र सरकार किसानों की स्तर को ऊपर उठाने के लिए है समय-समय पर नई-नई मापदंडों को अपनाते रहते हैं| महाराष्ट्र सरकार द्वारा किसानों की आय में बढ़ोतरी के लिए समय-समय पर नई योजनाओं की शुरुआत करते रहते हैं| महाराष्ट्र सरकार द्वारा किसानों के उत्थान के लिए बहुत सी योजनाओं की शुरुआत की गई है| जिसमें से प्रमुख है महामेश योजना| इसके अंतर्गत भी किसानों को उनकी आय की बढ़ोतरी में काफी अधिक मदद मिली है|

पशुपालन लोन महाराष्ट्र 2020

महाराष्ट्र सरकार द्वारा चलाई गई योजना किसानों के हितों के लिए ही है| इस योजना के अंतर्गत किसानों को पशुओं को खरीदने के लिए सब्सिडी प्रदान की जाती है| जिसमें श्रेणी के हिसाब से किसानों को विभाजित किया गया है, तथा सब्सिडी भी किसानों को उसे हिसाब से दी जाएगी |

  1. इसमें सामान्य श्रेणी से संबंध रखने वाले किसानों को 50% तक सब्सिडी महाराष्ट्र सरकार द्वारा दिए जाने का प्रावधान है|
  2. जबकि अनुसूचित जाति से संबंध रखने वाले किसानों को 75% तक सब्सिडी महाराष्ट्र सरकार द्वारा दी जाएगी|
  3. सरकार द्वारा पशु पालन बनाने हेतु यदि कोई किसान पहल करता है तो उसे ₹30000 सरकार द्वारा दिए जाएंगे|
  4. किसान यदि ऑटोमेटिक कूलर कटर मशीन लेना चाहता है तो उसके लिए ₹25000 सरकार द्वारा अदा किए जाएंगे|
  5. किसान पशुओं के चारे को जमा करने के लिए स्टोर बनाना चाहता है तो वह इसके लिए भी सरकार द्वारा ₹25000 प्रदान किए जाएंगे|
  6. पशुओं के बीमा हेतु 15184 सरकार द्वारा किसानों को दिए जाएंगे|

योजना जिला पशुपालन अधिकारी जिला परिषद द्वारा चलाई जाती है पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए ही सरकार ने इस तरह के कदम उठाए हैं इसमें पशुपालन के लिए 1200000 मेरी क्षेत्र में काम करने वाले किसानों को स्वरोजगार भी प्रदान किया जाता है ताकि वह एक अच्छा जीवन व्यतीत कर सकें कृषि मंत्री बृजमोहन अग्रवाल ने अपने भाषण में कहा है कि कामधेनु विश्वविद्यालय अंजोरा के दूसरे दीक्षांत समारोह में की कृषि के क्षेत्र में लोगों को रोजगार दिलाने के लिए यह योजना तैयार की गई है इस योजना के तहत अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति वर्ग के हितग्राहियों को 66% अनुदान दिया जाएगा| यह एक बहुत ही अच्छी सरकार द्वारा चलाई गई योजना है|

maharashtra pashupalan yojana 2019

दोस्तों यदि आप इस योजना का लाभ उठा सकते हैं | महाराष्ट्र सरकार द्वारा चलाए गए विभाग पशु वर्धन विभाग में जाकर इस योजना से संबंधित अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं तथा इस योजना का लाभ उठा सकते हैं यह योजना किसानों के उत्थान के लिए है| हमारेदेश में किसानों की काफी दयनीय स्थिति है| राज्य सरकार द्वारा ने ने योजनाओं की शुरुआत किसानों के उत्थान के लिए की जाती है| हम सभी जानते हैं कि हमारा देश कृषि प्रधान देश है और कृषि पर ही आधी से ज्यादा जनसंख्या निर्भर करती है इसी कारण सरकार द्वारा कृषि को बढ़ोतरी देने के लिए भी नई नई योजनाएं चलाई जा रही हैं|

प्रदेश में दूध की बढ़ती हुई मांग को देखते हुए सरकार ने इस योजना को शुरू किया है ताकि जनता पशुपालन के तरफ अधिक आकर्षित हो| और अधिक से अधिक पशुओं को रखें इसके लिए सरकार द्वारा बैंकों से बहुत ही कम ब्याज पर लोन भी उपलब्ध किया जा रहा है| लोगों को किसी प्रकार की कोई दिक्कत का सामना ना करना पड़े पशुपालन लोगों को अधिक रोजगार तथा अच्छा जीवन व्यतीत करने में बहुत ही सहायक है| गरीब लोग जिन्हें अपना जीवन व्यतीत करने में अधिक दिक्कत का सामना करना करना पड़ता है उनके लिए यह बहुत ही अच्छी योजना है|

महाराष्ट्र सरकार द्वारा चलाई गई नई नई योजनाओं के बारे में अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करके भी हमसे संपर्क कर सकते हैं हम आपके प्रश्नों का उत्तर अवश्य देंगे|

10 thoughts on “[पंजीकरण] पशुपालन लोन महाराष्ट्र 2020 Maharashtra Pashupalan Yojana”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *