(jansunwai epass Login Status) प्रवासी पंजीकरण जनसुनवाई हेल्पलाइन नंबर

jansunwai epass: उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा जन कल्याण के लिए एक और कदम उठाया है, ताकि पूरे भारतवर्ष में लगे लाख डाउन के कारण हो रही परेशानी में नागरिक सुविधा प्रदान कर सकें| जैसा कि हम सभी जानते हैं कि मोदी सरकार द्वारा भारतवर्ष में लॉक डाउन17 मई तक बढ़ाया गया है। लेकिन कई राज्यों में इसे अधिक दिनों के लिए बढ़ा दिया गया है। उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा अपने स्तर पर नागरिकों को सहायता प्रदान करने के लिए हर संभव प्रयास किया जा रहा है कोरोनावायरस तथा महामारी के कारण बहुत से ऐसे लोग हैं जो अपने राज्य से कोसों दूर दूसरे राज्य में फंसे हुए हैं जहां पर उन्हें खाने-पीने रहने प्रकार की मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है| इस बार उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा जनसुनवाई हेल्पलाइन नंबर जारी किया गया है जिसके माध्यम से किसी भी व्यक्ति को कोई भी समस्या है तो वह आसानी से सरकार द्वारा शुरू किए गए हेल्पलाइन नंबर पर फोन कर लाभ प्राप्त कर सकता है|

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री द्वारा जनसुनवाई पोर्टल पर पंजीकरण की सुविधा आम जनता के लिए शुरू कर दी गई है इस पर दो लिंक शुरू किए गए हैं| “उत्तर प्रदेश से अन्य राज्य जाने हेतु” सुविधा तथा “अन्य राज्यों से उत्तर प्रदेश आने हेतु” सुविधा| आप अपनी सुविधानुसार लिंक का चयन कर सकते हैं तथा यहां पर अपना पंजीकरण कर सकते हैं| उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा अन्य राज्यों में फंसे प्रवासी नागरिकों को प्रदेश में वापस लाने तथा उत्तर प्रदेश से अन्य राज्यों में भेजने के लिए बहुत ही अच्छे इंतजाम किए हैं|

jansunwai epass: जनसुनवाई पोर्टल में रजिस्ट्रेशन करने की प्रक्रिया 5 मई से आम जनता के लिए शुरू कर दी जाएगी यहां पर आप आसानी से पंजीकरण कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं| अब प्रत्येक प्रवासी नागरिक तथा अन्य राज्यों में जाने वाले रंगरिक उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा शुरू किए गए इस पोर्टल का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। लेकिन यह अवश्य ध्यान में रखें कि इस पोर्टल पर पंजीकरण का अर्थ यह नहीं है कि आपको यात्रा के लिए पंजीकरण मिल गया है यह केवल सक्षम स्तर से अनुमति मिलने पर आवेदक को सूचित किया जाएगा|

जनसुनवाई पोर्टल से संबंधित जानकारी

योजना का नाम– जनसुनवाई पोर्टल
शुरू की गई- योगी आदित्यनाथ के द्वारा
लाभार्थी- प्रवासी उत्तर प्रदेश नागरिको तथा उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों की जनता
प्रदेश- उत्तर प्रदेश

जनसुनवाई पोर्टल

जनसुनवाई पोर्टल एक एंड्राइड ऐप है जिसे आप अपने फोन जो कि एक एंड्राइड होना चाहिए प्ले स्टोर में जाकर आसानी से डाउनलोड कर सकते हैं| जनसुनवाई पोर्टल उत्तर प्रदेश की सरकार के द्वारा शुरू किया गया एक पोर्टल है जिसके माध्यम से उत्तर प्रदेश प्रवासी अन्य राज्य के निवासियों के लिए पंजीकरण की सुविधा प्रदान की जाती है| इस पोर्टल पर विभिन्न राज्यों से आने वाले प्रवासी व्यक्ति ऑनलाइन ही पंजीकरण कर सकते हैं| और यदि आपको विभिन्न राज्यों में किसी प्रकार की कोई भी परेशानी आ रही है तो आप इस पोर्टल पर अपनी परेशानी को भी लिख सकते हैं|

jansunwai epass
jansunwai epass

जनसुनवाई पोर्टल के अंतर्गत टीम द्वारा इस पर उचित कार्यवाही की जाएगी तथा उचित सहायता उत्तर प्रदेश के व्यक्ति को प्रदान की जाएगी| इस पोर्टल पर शिकायत करने के साथ-साथ शिकायत का स्टेटस की भी पूर्ण जानकारी प्राप्त हो जाती है | इस पोर्टल के माध्यम से कैसे आप पंजीकरण कर सकते हैं किस प्रकार आप अपनी शिकायत डाल सकते हैं शिकायत का स्टेटस आप किस प्रकार देख सकते हैं इन सभी से संबंधित जानकारी हम आपको यहां पर उपलब्ध करने जा रहे हैं।

जनसुनवाई पोर्टल की विभिन्न सुविधाएं

जनसुनवाई लॉगइन करना
ऑनलाइन शिकायत दर्ज करना
शिकायत का स्टेटस चेक करना
रिमाइंडर(अनुस्मारक) भेजने की सुविधा
शिकायत के लिए हेल्पलाइन नंबर

jansunwai epass Login Status

जनसुनवाई पोर्टल मैं हम आपको विस्तृत जानकारी उपलब्ध करने जा रहे हैं ऊपर लिखित प्रमुख बिंद है जो इस फोटो में आपको उपलब्ध किए गए हैं| इसके अतिरिक्त यदि आप अधिकारियों से बात करना चाहते हैं तो उसकी सुविधा भी इस पोर्टल में प्रदान की गई है। जनसुनवाई पोर्टल सरकार द्वारा शुरू करने का प्रमुख देश है यही भी है कि प्रदेश में होने वाली अपराधिक घटनाओं पर कुछ रोकथाम लगाई जा सके। हम सभी जानते हैं कि उत्तर प्रदेश एक बहुत बड़ा राज्य है यही कारण यहां पर अपराधिक मामलों में भी अन्य राज्यों से सबसे आगे हैं| इन्हीं अपराधिक मामलों पर रोकथाम लगाने के लिए सरकार ने इस पोर्टल को शुरू किया है।

प्रवासी पंजीकरण: Click here

पंजीकरण के समय ध्यान रखने योग्य बातें

  • पंजीकरण करते समय आवेदक को अपना सही नाम भरना होगा|
  • मोबाइल नंबर की आवश्यकता पड़ेगी|
  • ईमेल आईडी|
  • पहचान पत्र संख्या भरनी है|
  • आवेदक अकेला जा रहा है या परिवार के साथ यात्रा कर रहा है इसके अतिरिक्त यात्रा का माध्यम अंकित करना होगा|
  • आवेदक का वर्तमान पता|
  • आवेदक तथा उसके परिवार को किसी प्रकार की कोई स्वास्थ्य परेशानी|
  • अवैध तथा उसके परिवार को पहले क्वॉरेंटाइन किया गया है या नहीं इसकी जानकारी भरना|
  • किस जगह पर जाना चाहते हैं जैसे कि, ग्रीन जोन, रेड जोन या फिर ऑरेंज जोन|
  • वहां का पता और मौजूद व्यक्ति का नाम और मोबाइल नंबर देना आवश्यक है|

jansunwai epass Login: यदि आपने इस पोर्टल पर कोई भी शिकायत दर्ज की है और विभाग द्वारा उसके ऊपर कोई भी कार्यवाही नहीं की जाती है या आपको स्टेटस में उस पर कोई भी विवरण नहीं मिलता है तो आप इस पोर्टल पर अनुस्मारक( रिमाइंडर) भी डाल सकते हैं| इसके अतिरिक्त हम आपको यहां पर हेल्पलाइन नंबर भी उपलब्ध करेंगे जिसके माध्यम से आसानी से आप विभाग के अधिकारियों से बात कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं|

जनसुनवाई पोर्टल पंजीकरण मैंअपनी शिकायत दर्ज कैसे करें?

  1. सबसे पहले आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए जन सुनवाई के अधिकारिक तेज पर जाना है|
  2. यहां पर आपको होम पेज पर विभिन्न ऑप्शन दिखाई देंगे जैसे कि शिकायत पंजीकरण, शिकायत की स्थिति, अनुस्मारक भेजें तथा फीडबैक दे|
  3. इन सभी ऑप्शन में से आपको अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए “शिकायत पंजीकरण” पर क्लिक करना है|
  4. अब आपके पास एक नया पेज खुल जाएगा यहां पर कुछ दिशानिर्देश दिए गए हैं इन्हें अवश्य पढ़ ले उसके बाद नीचे दी गई लाइन में सहमति जताई तथा सबमिट बटन पर क्लिक कर दे|
  5. अब आपके पास नया पेज खुल जाएगा जो “ऑनलाइन पंजीकरण पटल” है| यहां पर आपको अपनी शिकायत दर्ज करने के लिए सबसे पहले अपना मोबाइल नंबर , ईमेल आईडी तथा कैप्चा कोड बनने के पश्चात नीचे दिए गए लिंक “सबमिट करें एवं ओटीपी भेजें” पर क्लिक कर दें|
  6. अब आपके द्वारा भरे गए मोबाइल नंबर पर एक ओटीपी आएगा इसे भर दीजिए|
  7. अब आपके पास एक नया पेज खुलेगा इसमें आपको अपनी शिकायत को भरना है|
  8. शिकायत दर्ज होने के बाद आप भविष्य में इस्तेमाल के लिए शिकायत संख्या को लिख ले| ताकि आप अपनी शिकायत से संबंधित स्टेटस को बाद में देख सकें|

जनसुनवाई पोर्टल हेल्पलाइन नंबर

jansunwai epass Login: जनसुनवाई पोर्टल पर जैसा कि अनुस्मारक भेजने की भी सुविधा प्रदान की गई है इसलिए यदि आप की शिकायत पर किसी प्रकार की कोई भी कार्यवाही नहीं की गई है तथा शिकायत की स्थिति मैं आपको कोई भी जानकारी नहीं मिली है| तो आप अनुस्मारक भेजे पर क्लिक कर सकते हैं। इस पर क्लिक करने के बाद आपको संदर्भ संख्या को भरना है उसके बाद नीचे दिए गए खोजें बटन पर क्लिक कर दें| इस प्रकार बहुत ही आसानी से आप रिमाइंडर भेज सकते हैं| दोस्तों हम आपको यहां पर हेल्पलाइन नंबर उपलब्ध कर रहे हैं जिसके माध्यम से आप बहुत ही आसानी से अधिकारियों से बात कर अधिक जानकारी इस पोर्टल से संबंधित प्राप्त कर सकते हैं|

उचित कार्यवाही

उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा चलाई गई इस सुविधा का लाभ प्रत्येक नागरिक उठा सकता है। इसके अतिरिक्त विभाग द्वारा यह निर्देश भी दिए जाते हैं कि यदि किसी व्यक्ति द्वारा पंजीकरण प्रक्रिया में गलत जानकारी भरता है तो विभाग द्वारा उचित कार्रवाई की जाएगी और उस पर महामारी अधिनियम या आपदा प्रबंधन अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही होगी। इसलिए आप केवल उचित इस्तेमाल के लिए ही इस पोर्टल का इस्तेमाल करें।

jansunwai epass: Registration Form

जैसा कि सरकार द्वारा सुनिश्चित किया गया है कि यहां पर शिकायत दर्ज करने के केवल एक दिन में ही उचित कार्यवाही की जाएगी| सरकार द्वारा यह हेल्पलाइन इसीलिए जारी किया गया है ताकि नागरिक की बात सीधे अधिकारी से हो सके और उसकी समस्या का समाधान जल्द से जल्द किया जा सके| इस हेल्पलाइन नंबर का हेड क्वार्टर लखनऊ जिले में रखा गया है| 500 कर्मचारियों के साथ इस काम को किया जाएगा| ताकि किसी भी नागरिक द्वारा की गई फोन कॉल को अटेंड किया जा सके|

उत्तर प्रदेश जनसुनवाई पोर्टल शिकायत की स्थिति jansunwai epass

  1. अपनी शिकायत की स्थिति को देखने के लिए आपको जनसुनवाई पोर्टल के आधिकारिक पेज में जाना है|
  2. होम पेज में आपको जनसुनवाई पोर्टल शिकायत की स्थिति के लिंक पर क्लिक करना है |
  3. अब आपके पास नया पेज खुलेगा यहां पर आप अपना शिकायत संख्या नंबर भरे उसके बाद मोबाइल फोन और ईमेल आईडी को भरने के पश्चात नीचे दिए गए कैप्चा कोड को भरकर सबमिट बटन पर क्लिक कर दें|
  4. अब अपने कंप्यूटर स्क्रीन पर आप अपनी शिकायत की स्थिति को आसानी से देख सकते हैं।

मुख्यमंत्री जी ने यह भी कहा है कि आम जनता इसका लाभ उठा सकती है ताकि उनकी समस्याओं का तत्कालिक समाधान हो सके आप घर बैठे पोर्टल पर आसानी से आवेदन तथा शिकायत कर सकते हैं| अब मुख्यमंत्री द्वारा टोल फ्री हेल्पलाइन सेवा इंटीग्रेटेड ग्रीवेंस रिड्रेसल सिस्टम जनसुनवाई पोर्टल लिंक भी शुरू किया गया है| पोर्टल पर भी इसकी जानकारी उपलब्ध है|

Login

500 कर्मचारियों के साथ शुरू किया गया यह पोर्टल 1 दिन में इनबॉउंड 107680 हजार फोन कॉल तथा आउटबोर्ड में 55000 फोन कॉल प्रतिदिन की क्षमता है| इसी से पता लगाया जा सकता है कि यह कितने बड़े पैमाने पर उत्तर प्रदेश की सरकार द्वारा शुरू किया गया है| इसके अतिरिक्त मुख्यमंत्री कार्यालय की टीम द्वारा भी इसका निरीक्षण किया जाएगा| अगर इस स्तर पर समस्या का समाधान नहीं होता है तो विभाग के उच्च अधिकारी अर्थात डीएम और एसएसपी को समाधान करने के लिए भेजा जाएगा| यदि किसी कारणवश उनके द्वारा भी समस्या का समाधान नहीं होता है तो शासन द्वारा इसका समाधान किया जाएगा|

हेल्पलाइन नंबर

पाठको यदि आप उत्तर प्रदेश राज्य में फंसे हैं और यहां से अपनी राज्य में वापस जाना चाहते हैं या फिर आप उत्तर प्रदेश के नागरिक हैं और अपने राज्य में वापस आना चाहते हैं तो आप जन जनसुनवाई पोर्टल में पंजीकरण करें| पंजीकरण करने में आपको किसी भी प्रकार की कोई भी परेशानी हो रही है या फिर आपको किसी प्रकार की कोई जानकारी चाहिए तो आप इस हेल्पलाइन नंबर पर फोन करें और अधिकारी से बात कर अपनी समस्या का समाधान कर सकते हैं|

हेल्पलाइन नंबर- 1076

दोस्तों इस प्रकार आज हमने आपको उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा शुरू किए गए जन कल्याण पोर्टल हेल्पलाइन नंबर से संबंधित जानकारी प्रदान की है| जैसा कि यह पोर्टल काफी समय से प्रदेश में चल रहा है लेकिन अब इसके साथ कुछ अन्य सुविधाओं को भी जोड़ा गया है ताकि लोग इसका अत्यधिक फायदा उठा सकें| यदि आपके मन में किसी भी प्रकार का कोई भी प्रश्न है तो आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट करें|

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *