dbtagriculture.bihar.gov.in check status online बिहार किसान स्टेटस ऑनलाइन

dbtagriculture.bihar.gov.in , बिहार किसान एप्लीकेशन स्टेटस, check status check online, Registration online dbtagriculture Bihar, Helpline Number

बिहार सरकार द्वारा चलाई गई योजना बिहार इनपुट सब्सिडी योजना के तहत ऑनलाइन आवेदन आमंत्रित किए जा रहे हैं, सभी उम्मीदवार समय पर अपना आवेदन कर दीजिए| वे सभी उम्मीदवार जिन्होंने आवेदन कर दिया है वे अपने आवेदन की स्थिति को देखना चाहते हैं| हम आपको यहां किस आर्टिकल के माध्यम से आवेदन की स्थिति से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करने जा रहे हैं, कैसे आप बहुत ही आसानी से घर बैठे यह जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

dbtagriculture bihar
dbtagriculture bihar

dbtagriculture bihar

बिहार इनपुट सब्सिडी योजना के तहत तक ओलावृष्टि तथा अति बारिश के कारण होने से भूमि की क्षति को भरने के लिए ही सरकार ने यह सब्सिडी लोगों को देने का फैसला किया है। प्राकृतिक आपदाओं द्वारा ग्रसित किसानों के खेतों की भरपाई के रूप में सब्सिडी लोगों को दी जाएगी। बिहार राज्य सरकार ने कृषि इनपुट अनुदान योजना के लिए आवेदन की तिथि को बढ़ा दिया गया है और किसान अब अधिक समय के लिए आवेदन कर सकते हैं ।

अन्य बिहार योजनाओ के लिए यह क्लिक करे Click here

बिहार सरकार द्वारा राज्य के किसानों को लाभ पहुंचाने के लिए ही इस योजना को शुरू किया है ताकि वह सभी किसान जो प्राकृतिक आपदाओं से हुए नुकसान को देखकर आत्महत्या तक का कदम उठा लेते हैं| उन्हीं किसानों को मध्य नजर रखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है कि सब्सिडी उनके खाते में डाल दी जाए ताकि वे एक अच्छा जीवन व्यतीत कर सकें| सरकार द्वारा प्रति हेक्टेयर अधिकतम राशि ₹13500 की अनुदान राशि प्रदान की जाएगी| इस योजना का कार्यभार “प्रत्यक्ष लाभ अंतरण कृषि विभाग बिहार सरकार” द्वारा लिया गया है तथा किसानों को लाभ किसी विभाग के अंतर्गत प्रदान किया जा रहा है, दोस्तों यदि आपने इस योजना के लिए आवेदन कर दिया है तो आप यहां पर एप्लीकेशन स्टेटस को देख सकते हैं इससे संबंधित चरण हम आपको यहां पर उपलब्ध करने जा रहे हैं इनको फॉलो कर आप आसानी से अपने एप्लीकेशन का स्टेटस देख सकते हैं।

dbtagriculture.bihar.gov.in check status online:-

किसान विभिन्न योजनाओं का लाभ प्रत्यक्ष लाभ अंतरण कृषि विभाग के माध्यम से प्राप्त कर सकते हैं| राज्य सरकार द्वारा किसानों की सुविधा के लिए घर बैठे सरकारी योजना का लाभ प्रदान करने के लिए एक वेब पोर्टल लॉन्च किया गया है । बिहार सरकार द्वारा शुरू किए गए इस शोध के माध्यम से किसान भाई राज्य सरकार की योजनाओं का तथा केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं। पहले जहां किसानों को लंबी कतार में खड़े होकर आवेदन करना पड़ता था वहीं अब सरकार द्वारा ऑनलाइन आवेदन प्रक्रिया करने से यह काम बहुत ही आसान हो गया है किसान भाई घर पर ही वह विभिन्न योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सकते हैं ।

डीबीटी कृषि बिहार सरकार

बिहार सरकार द्वारा शुरू किए के माध्यम से किसानों को विभिन्न सेवाओं का लाभ प्रदान करना ही सरकार का उद्देश्य है। सरकार द्वारा शुरू किए गए इस पोर्टल के माध्यम से आ प्रधानमंत्री कृषि सम्मान निधि योजना का लाभ प्राप्त कर सकते हैं और इस योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन तथा एप्लीकेशन स्टेटस आसानी से देख सकते हैं |इसके अलावा इस पोर्टल पर आप डीजल अनुदान संबंधी सूखाग्रस्त प्रखंडों के लिए, इनपुट सब्सिडी डीजल अनुदान के, प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, जैविक खेती अनुदान आवेदन, बीज अनुदान आवेदन सरकारी योजनाओं का लाभ उठा सकते हैं ।

इनपुट सब्सिडी योजना के तहत सरकार द्वारा किसान भाइयों को सब्सिडी उनकी फसल की पैदावार मैं हुई रुकावट पर दी जाती है । यह सब्सिडी प्रमुख रूप से प्राकृतिक आपदाएं जैसे कि बाढ़, सूखा, ओलावृष्टि आदि से हुए नुकसान की भरपाई के लिए प्रदान की जाती है| कृषि इनपुट सब्सिडी योजना का लाभ किसान अधिकतम 2 हेक्टेयर तक की भूमि पर ले सकता है| यदि किसान भाई को इस योजना के तहत सब्सिडी मार्च महीने में दे दी गई है तो वह यह सब्सिडी अप्रैल महीने में प्राप्त नहीं कर सकता है| उसे एक सीजन में एक ही बार सब्सिडी दी जाएगी बिहार सरकार द्वारा इस योजना का लाभ केवल रजिस्टर्ड किए गए किसानों को ही दिया जाएगा| यदि आप भी इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आपको सबसे पहले अपना नाम पोर्टल पर रजिस्टर्ड करना होगा| इसके लिए कुछ महत्वपूर्ण दस्तावेजों की आवश्यकता पड़ेगी इससे संबंधित जानकारी चाहते हैं तो हम आपको इस आर्टिकल में एक लिंक उपलब्ध कर देंगे जिसके माध्यम से आप अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं।

दोस्तों कोरोना वायरस के कारण न केवल बिहार राज्य में बल्कि पूरे देश में lockdown का माहौल है और इस माहौल में घर से बाहर निकलना सही नहीं है| हम सभी चाहते हैं कि कोरोनावायरस को हमारे देश से जड़ से खत्म किया जा सके इसके लिए हमें अपने घरों पर ही रहना होगा| सरकार द्वारा दी जाने वाली सब्सिडी भी लोगों के खाते में डायरेक्ट जाली जाएगी| इसके लिए लोगों को /किसानों को किसी भी बैंक में जाने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी वह अपने समय अनुसार एटीएम से इसे प्राप्त कर सकते हैं।

बिहार किसान एप्लीकेशन स्टेटस

  1. बिहार के वे सभी किसान भाई जो अपना एप्लीकेशन फॉर्म का स्टेटस देखना चाहते हैं उन्हें सबसे पहले विभाग की आधिकारिक वेबसाइट “प्रत्यक्ष लाभ अंतरण कृषि विभाग बिहार सरकार” के लिंक के ऊपर क्लिक करना है। Official Website
  2. अब आपको होम पेज में विभिन्न ऑप्शन दिखाई देंगे इन ऑप्शन में से दिए गए ऑप्शन आवेदन की स्थिति तथा आवेदन प्रिंट का ऑप्शन दिखाई देगा इसके ऊपर कीजिए|
  3. जब आप इसके ऊपर करेंगे तो आपके पास विभिन्न ऑप्शन दिखाई देंगे जैसे इनपुट सब्सिडी, रवि मौसम इनपुट सब्सिडी, रवि मौसम फरवरी माह में आवेदन की स्थिति, इनपुट सब्सिडी रवि मार्च माह के आवेदन की स्थिति, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की स्थिति, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना पुनर्विचार की स्थिति, प्रधानमंत्री किसान भुगतान की स्थिति, प्रधानमंत्री किसान और स्वीकृति, आवेदन सूची, डीजल अनुदान की स्थिति, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना आवेदन प्रिंट करें, सूखाग्रस्त प्रखंडों के लिए इनपुट सब्सिडी आवेदन प्रिंट करें, डीजल अनुदान आवेदन प्रिंट करें जैसे लिंक दिखाई देंगे आप अपने हिसाब से संबंधित लिंक का चयन करें तथा उसके ऊपर क्लिक कर दीजिए ।
  4. क्लिक करने के पश्चात आपके पास एक नया पेज खुल जाएगा जैसे यदि आप “सूखाग्रस्त प्रखंडों के लिए इनपुट सब्सिडी” के प्रिंट चाहते हैं तो इसके ऊपर क्लिक कर दीजिए|
  5. यहां पर आप से पंजीकरण संख्या पूछी जाएगी । यहां अपनी पंजीकरण संख्या को भरने के पश्चात सर्च बटन पर क्लिक कर दीजिए ।
  6. अब आपके पास एक नया पेज खुल जाएगा यहां पर आपके द्वारा किए गए आवेदन की स्थिति को आप देख सकते हैं, आप चाहे तो इसका प्रिंट आउट भी निकाल कर अपने पास रख सकते हैं।

प्यारे भाइयों यह जानकारी है किसान एप्लीकेशन स्टेटस से संबंधित अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट के माध्यम से हम से संपर्क कर सकते हैं। यदि आपके मन में किसी प्रकार का कोई भी प्रश्न है तो वह भी आप हमें कमेंट बॉक्स में पूछ सकते हैं हम आपके प्रश्नों का उत्तर अवश्य देंगे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *