[FORM] अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना- Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना: अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना की शुरुआत हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा शुरू की गई है | इस योजना की शुरुआत इसीलिए की गई है ताकि हमारे देश में बढ़ रही बेरोजगारी की समस्या पर कुछ रोकथाम लगाई जाए| सरकार द्वारा आए दिन कई नई नई योजनाओं की शुरुआत करते रहते हैं लेकिन बेरोजगारी की समस्या से निपटने के लिए यह योजना काफी कारगर सिद्ध हो रही है| प्यारे दोस्तों हम आपको यहां पर इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं| यदि आप इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो दी गई जानकारी को पूरा पढ़ें| उसके बाद इसके लिए आवेदन करें इसमें हम आपको पात्रता कैसे आवेदन कर सकते हैं आदि से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करने जा रहे हैं|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना की शुरुआत मोदी सरकार द्वारा देश के युवाओं के लिए शुरू की गई है| ऐसे युवा जो नौकरी करते हैं लेकिन किसी कारणवश उनकी नौकरी छूट जाती है तो जिस अवधि में वह घर रहते हैं उन्हें 24 महीने यानी कि 2 साल तक सरकार द्वारा आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| ताकि वह अपनी रोजमर्रा की जिंदगी में काम आने वाली जरूरतों को पूरा कर सकें| सरकार द्वारा मध्यम वर्ग से संबंध रखने वाले ऐसे युवा जो रोजी-रोटी के के लिए कमाने तो जाते हैं लेकिन किसी कारणवश उनकी नौकरी छूट जाती है| उनके लिए यह बहुत ही उपयोगी योजना है| दोस्तों संगठित क्षेत्र से संबंध रखने वाले कर्मचारियों के लिए यह मोदी सरकार की बहुत बड़ी सौगात है|

सरकार द्वारा बेरोजगार युवाओं को सहायता राशि सीधे उनके बैंक अकाउंट में दी जाएगी| इस योजना को मंजूरी कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा दे दी गई है| इस योजना का प्रमुख लाभ कर्मचारी राज्य बीमा निगम सुविधा वाले कर्मचारियों को दिया जाएगा| इस योजना के तहत जो व्यक्ति भ्रमित किया जाएगा उसे नकद राशि सरकार द्वारा उपलब्ध की जाएगी| यह राशि व्यक्ति को दी जाएगी जब किसी कारणवश थी उसकी नौकरी छूट जाती है तब उसे 2 साल तक का समय दिया जाएगा जिसमें वे एक ने नौकरी तलाश कर सके और तब तक सरकार द्वारा उसे आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना

वे सभी युवा जो प्राइवेट क्षेत्र से जुड़े हैं तथा प्राइवेट कंपनियों में नौकरी कर रही है लेकिन किसी कारणवश से उन्हें कंपनी से निकाल दिया जाता है या फिर उनकी नौकरी छूट जाती है यदि कंपनी घाटे में चल रही है तब भी नौकरी जाने की स्थिति में सरकार द्वारा सहायता तो प्रदान की जाएगी लेकिन साथ ही 3 महीने तक का वेतन भी उन्हें व्यक्ति को अदा करना होगा | परंतु इस सभी का लाभ बेरोजगार को तभी मिलेगा जब वह कर्मचारी ESIC यानी कर्मचारी राज्य बीमा निगम के साथ जुड़ा हो| कर्मचारी को आर्थिक सहायता सीधे उसके बैंक खाते में डाली चाहिए|
अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना

ESIC के ट्वीट के अनुसार अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत नौकरी जाने पर आर्थिक मदद देती है इसके साथ ही उन्होंने यह भी लिखा है कि रोजगार छूटने का मतलब आई की हानि नहीं है|ESIC रोजगार की अनैच्छिक हानि या गैर रोजगार चोट के कारण स्थाई आ सकता के मामले में 24 महीने की अवधि के लिए मासिक नकद राशि का भुगतान करता है| सरकार द्वारा दी जाने वाली इस आर्थिक सहायता का लाभ उम्मीदवारों को सर्विस ज्ञात के दौरान दिया जाएगा| 90 दिनों तक नौकरी चले जाने की स्थिति में यह आर्थिक सहायता उम्मीदवार को प्रदान की जाएगी| इसके तहत उम्मीदवार को उसकी उस नौकरी के 90 दिनों के 25% हिस्से का भुगतान किया जाएगा जो भी पहले कर रहा था|

Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana

हमारे देश में प्राइवेट क्षेत्र से संबंध रखने वाले युवा बहुत अधिक है| बहुत से परिवारों का जीवन यापन भी उन्हीं के खर्चे पर चलता है लेकिन यदि परिवार में कमाऊ सदस्य की नौकरी चली जाती है तो परिवार को बहुत मुसीबतों का सामना करना पड़ता है| इसी को मध्य नजर रखते हुए सरकार द्वारा इस नई योजना की शुरुआत की गई है और ईएसआईसी द्वारा भी इस योजना पर मुहर लगा दी गई है कि बेरोजगार युवाओं को आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| वह युवा जिनकी अचानक से ही नौकरी चली जाती है उनके लिए यह योजना सौगात है|

अटल बीमित व्यक्ति योजना के तहत राहत एवं आरोग्यता की समाप्ति

दोस्तों हम आपको यहां भी कुछ पॉइंट बता रहे हैं जिसके तहत अटल बीमित व्यक्ति योजना के तहत राहत स्वीकार्य नहीं की जाएगी|

  • कर्मचारियों द्वारा सक्षम अधिकारी द्वारा अवैध घोषित की गई हड़ताल का सहारा लिया गया|
  • रोजगार/ स्वैच्छिक सेवानिवृत्त/ समय से पूर्व सेवानिवृत्त का स्वैच्छिक प्रति परित्याग
  • 2 वर्ष से कम अंशदाई सेवा
  • इस अवधि में रहो कहीं और नौकरी करने की स्थिति में एबीबी के भाई के तहत राहत की प्राप्ति कर सकता है|
  • लॉक आउट के दौरान
  • अनुशासनात्मक कार्यवाही के तहत बर्खास्त संभव है|
  • आईपी की मृत्यु की स्थिति पर
  • अधिवर्षिता की आयु प्राप्त करने पर
  • नियम 62 के तहत ईएसआईसी अधिनियम की धारा 84 के प्रावधानों के तहत सजायकता|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के प्रमुख लाभ

हां जी आल्हाESIC निगम के कर्मचारियों को प्रति व्यक्ति ₹10 की प्रतिपूर्ति के प्रस्ताव के लिए मंजूरी दे दी गई है| जिससे कि उनके श्रमिकों एवं उनके परिवार के सदस्यों के ESIC डेटाबेस के आधार के जोड़े जाने को प्रोत्साहित किया जा रहा है| एक कदम एक ही व्यक्ति के विविध पंजीकरण में कमी लाएगा तथा दीर्घकालीन अंशदाई स्थितियों के लिए आवश्यक लाभ उठाने में सक्षम बनेगा|ESIC निगम के सुपरस्पेशल्टी उपचार का लाभ उठाने के लिए रियायत देने के लिए प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है जिसे पहले 2 वर्षों के बीमा योग्य रोजगार अवधि को घटाकर 6 महीने कर दिया गया है और इसमें केवल 70 दिनों के अंशदान की आवश्यकता होगी|

बीमित व्यक्तियों के आश्रितों के लिए सुपरस्पेशल्टी उपचार प्रदान करने के लिए अहर्ता में छूट देकर अब से 1 वर्ष तक के बीमा योग्य रोजगार अवधि को घटाकर 6 महीने तक कर दिया गया है| इसमें केवल 78 दिनों के आंख दान की आवश्यकता रहेगी| बीमित व्यक्तियों के आश्रितों के लिए सुपरस्पेशल्टी उपचार का लाभ उठाने की अहर्ता में छूट देकर अब से 1 वर्ष के बीमा योग्य रोजगार तक घटा दिया गया है इसमें 156 दिनों का सुधार होगा इस छूट से बीमित व्यक्तियों एवं उनके लाभार्थियों को संशोधित अहर्ता के अनुसार निशुल्क उपचार उपलब्ध किया जाएगा|ESIC निगम के बीमित व्यक्तियों की मृत्यु पर भुगतान किए जाने वाले अंत्येष्टि में में बढ़ोतरी कर इसे वर्तमान ₹10000 से बढ़ाकर ₹15000 करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी गई है|

पात्रता

  • करमचारी ईएसआई अधिनियम 1948 की धारा 2(9)के तहत आते हैं|
  • बीमित व्यक्ति को राहत का दावा करने की अवधि के दौरान उसका बेरोजगार होना अनिवार्य रहेगा|
  • बीमित व्यक्ति को 2 साल की न्यूनतम अवधि के लिए योग्य रोजगार होना चाहिए|
  • व्यक्ति को पूर्ववर्ती चारों में से प्रत्येक के दौरान 78 दिनों से कम का योगदान नहीं होना चाहिए|
  • उसके संबंध में योगदान नियोक्ता द्वारा भुगतान होना चाहिए|

atal bimit vyakti kalyan yojana online form

ESIC से बीमित सभी व्यक्तियों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा लेकिन कुछ ऐसी परिस्थितियों सामने आते हैं जैसे कि कर्मचारी के ऊपर कोई मुकदमा चल रहा है या फिर वे स्वयं कंपनी से रिटायरमेंट ले रहा है| इसके अतिरिक्त उसे कंपनी से निकाला जाता है तो उसे इस योजना का लाभ नहीं मिलेगा| इसके अतिरिक्त इस योजना का लाभ किसी व्यक्ति को एक ही बार मिलेगा| बार-बार नौकरी छुटने अथवा छोड़ने की स्थिति में यह लाभ उसे नहीं प्रदान किया जाएगा|

यह तो हम सभी जानते हैं, कि प्राइवेट नौकरी करने वालों को हर दिन की चिंता सताती रहती है और कहीं नौकरी चली जाएगी तो उनका तथा उनके परिवार का क्या होगा यह सबसे बड़ी समस्या भी रहती है| मोदी सरकार द्वारा इसी को मध्य नजर रखते हुए एक नई योजना की शुरुआत की है जिसका नाम है अटल विनीत व्यक्ति कल्याण योजना| इसके अतिरिक्त अबESIC ने सुपरस्पेशल्टी ट्रीटमेंट के नियम को और अधिक आसान कर दिया गया है| पहले इसके लिए 2 साल तक रोजगार में होना आवश्यक था लेकिन अब केवल 6 महीने तक में इसकी सहूलियत प्रदान की जाती है| वही योगदान की शर्त 78 दिनों की रख दी गई है|

आवेदन करने का तरीका

नौकरी जाने का डर हर किसी व्यक्ति के मन में होता है और ऐसी स्थिति में दूसरी नौकरी की तलाश महीनों लग जाते हैं| किसी भी शख्स को फंड की कमी महसूस होती है| मोदी ने इसी कमी को दूर करने के लिए पटेल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना को शुरू किया है| इस योजना का संचालन कर्मचारी राज्य बीमा निगम द्वारा किया जाएगा |इस योजना के तहत नौकरी चले जाने पर ईएसआईसी के अगले 3 महीने तक 90 दिनों की सैलरी का 25% हिस्सा व्यक्ति को दिया जाएगा| इस योजना का लाभ उठाने के लिए भारतीय नागरिकता आवेदन कर सकता है| समय से पहले या आशिक रिटायरमेंट लेने पर लोगों को इस योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा| इसके तहत अपराधिक मुकदमा दर्ज होने की स्थिति में कर्मचारी को इस योजना का लाभ नहीं दिया जाएगा|

  1. वे सभी उम्मीदवार जो इस योजना का लाभ उठाना चाहते हैं उन्हें सबसे पहले इस लिंक employees State Insurance Corporation पर क्लिक करना है|
  2. अब यहां से उम्मीदवार आवेदन फार्म को डाउनलोड करें|
  3. अब इसमें दी गई जानकारी को ध्यानपूर्वक भर दीजिए इसमें आपका नाम पता तथा कंपनी आदि से संबंधित जानकारी पूछी जाएगी इसे भर दीजिए|
  4. अब आपको एक 20 रुपए का non-judicial पेपर पर नोटरी एफिडेविट करवाना है|
  5. इस पेपर को इस फार्म के साथ अटैच करना है|
  6. इसमें AB-1 से लेकर AB-4 तक फार्म जमा करवाया जाएगा
  7. अब आप इसे संकलित कर अपने शहर के नजदीकी ESIC ब्रांच में जमा करवा दीजिए|

atal bimit vyakti kalyan yojana in hindi

सरकार नौकरी छूट जाने पर दो साल तक आपको अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत वित्तीय मदद देती है। कर्मचारी राज्य बीमा निगम यानि ESIC की अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के तहत आपकी अचानक नौकरी छूटने के बाद दो साल तक मदद की जाती है।ध्यान रहे फॉर्म के साथ आपको 20 रुपये का नॉन-ज्‍यूडिशियल पेपर पर नोटरी से एफिडेविड भी अटैच करना होगा। इसमें एबी-1 से लेकर एबी- 4 तक के फार्म को जमा कराया जाएगा|

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना अटल बीमित व्यक्ति योजना की शुरुआत देश के उन बेरोजगार युवाओं के लिए की गई है जिनका रोजगार किसी कारणवश टूट चुका है जैसा कि हम सभी जानते हैं कि प्राइवेट नौकरी पेशा लोगों को अक्सर यह परेशानी का सामना करना पड़ता है कंपनियों द्वारा कर्मचारियों को निकाल देने के पीछे कई प्रकार के कारण होते हैं कई बार आर्थिक हालात ठीक हो ना होने के कारण भी कंपनियां छटनी कर देती है ऐसी स्थिति में बेरोजगारों को आर्थिक में पड़ता है अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना इसी को मद्देनजर करते हुए सरकार द्वारा शुरू की गई योजना है।

अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना का लाभ व प्रत्येक व्यक्ति उठा सकता है जो कि संगठित क्षेत्र में काम करता है और जिसकी कंपनी द्वारा या हर महीने वेतन से काटा जाता है आप आसानी से इस योजना के लिए आवेदन कर सकते हैं अभी से जुड़ी सारी जानकारी हमने आपको यहां भी उपलब्ध की है जिसके द्वारा आप आसानी से आवेदन करें फार्म भरते समय कुछ महत्वपूर्ण जानकारियों का होना अनिवार्य है जैसे फार्म के साथ आपको ₹20 का नोट करना होगा इसमें तक जमा कराया जाएगा कि आपको कितने रुपए की आर्थिक सहायता प्रदान की जाएगी| यह सारा अनुमान आपके द्वारा भेजे गए आवेदन फार्म के माध्यम से किया जाएगा उसके बाद ही आपको शिवरा का लाभ प्रदान किया जाएगा|

तो दोस्तों यह जानकारी अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना के बारे में थे अधिक जानकारी के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट के माध्यम से हम से संपर्क कर सकते हैं| यदि आपके मन में किसी प्रकार का कोई भी प्रश्न इस आर्टिकल से संबंधित है तो आप वह भी नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में हमसे पूछे|

5 thoughts on “[FORM] अटल बीमित व्यक्ति कल्याण योजना- Atal Bimit Vyakti Kalyan Yojana”

  1. I am trying to get registered for last two days, couldn’t yet.
    I have lost my job due to my employer has closed his projects permanently.
    My clients where I worked on contact basis, not making payments.
    Now I have huge debts of credit card and relatives to pay off while maintaining my and my family’s existence

  2. I have lost my job due to close down of company. kindly tell me how to apply in Atal Bimit
    Vyakti Kalyan Yojna, thanks.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *