प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना app UPSC apk download लिंक एप्लीकेशन फॉर्म डाउनलोड

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना: प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना की घोषणा हमारे देश के प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा की गई है। यह सौगात उन्होंने राष्ट्रीय पंचायती राज दिवस के अवसर पर देशवासियों को प्रदान की है| यह योजना आम जनता के लिए बहुत ही सहायक हैं प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा 24 अप्रैल 2020 को स्वामित्व योजना तथा ई ग्राम स्वराज पोर्टल का शुभारंभ किया है|आज हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से इस योजना से संबंधित संपूर्ण जानकारी उपलब्ध करने जा रहे हैं कैसे आप इसका लाभ उठा सकते हैं तथा इसके अतिरिक्त इसका आर्टिकल में हम आपको एक ग्राम स्वराज पोर्टल से संबंधित जानकारी एक लिंक के माध्यम से उपलब्ध करेंगे जिस पर क्लिक करें आप आसानी से उसके बारे में भी जान सकते हैं।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना के माध्यम से देश के ग्रामीण इलाकों में आवासीय जीवन का मालिकाना हक आधुनिक तकनीक का इस्तेमाल करते हुए किया जा सकेगा। सबसे पहले इस योजना के अंतर्गत ग्रामीण इलाकों की जमीन को ड्रोन की माध्यम से मापा जाएगा। इस योजना का प्रमुख उद्देश्य यही है कि संपत्ति का रिकॉर्ड बनाया जा सके और संपत्ति के मालिक को उसके संपत्ति के बारे में संपूर्ण जानकारी मुहैया की जा सके। ताकि मालिक अपनी संपत्ति के कागजातों को अपने पास संभाल के रख सके और समय आने पर भी उनका उचित इस्तेमाल भी कर सके।

स्वामित्व योजना

योजना का नाम– स्वामित्व योजना
शुरू की गई– प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा
लाभ- एकीकृत संपत्ति सत्यापन तथा ग्रामीण क्षेत्रों में रिहाई सी भूमिका सीमा करण करना
शुरुआत की गई- 24 अप्रैल 2020
योजना- केंद्र सरकार की योजना
लाभार्थी- देश की जनता

दोस्तों ग्रामीण इलाकों में बहुत से ऐसे लोग हैं जिन्हें अपनी जमीन के कागजात नहीं मिले हैं और बिना कागजातों को ही अपनी जमीन पर खेती बाड़ी करते हैं । कुछ किसानों की जमीन होने के बावजूद मालिकाना हक अथवा कागजात ना होने के कारण काफी दयनीय स्थिति में है। अब इस योजना के माध्यम से उन्हें अपना हक मिलेगा और वह अपनी जमीन के कागजात आसानी से प्राप्त कर सकेंगे भविष्य आने पर वे इस जमीन पर लोन ले सकते हैं ताकि वे अपनी स्थिति में सुधार कर सके। अन्य शब्दों में हम कह सकते हैं कि इस योजना का प्रमुख उद्देश्य संपत्ति का रिकॉर्ड बनाना तथा उसका स्वामित्व तय करना है।

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना

प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना
प्रधानमंत्री स्वामित्व योजना

स्वामित्व योजना के माध्यम से ड्रोन के माध्यम से सभी गानों की मैपिंग की जाएगी और इसी मैपिंग के आधार पर डिजिटल नक्शा बनाया जाएगा इसमें ना केवल ड्रोन की सहायता ली जाएगी बल्कि गूगल मैपिंग भी की जाएगी। इसके बाद गांव के लोगों को उस संपत्ति का मालिकाना दस्तावेज तथा प्रमाण पत्र दिया जाएगा| गांव के लोगों को भी अपनी संपत्ति का मालिकाना हक मिलने के पश्चात आसानी से शहरी लोगों की तरह ही अपनी जमीन पर बैंकों से लोन प्राप्त कर सकेंगे| इससे गांवों में भी विकास योजनाओं की प्लानिंग में मदद मिलेगी| प्रदेश के सबसे पहले 6 राज्यों में सूचना को चलाया गया है उसके बाद इसमें सुधार करके फिर देश के हर राज्य में लागू किया जाएगा।

स्वामित्व योजना के प्रमुख बिंदु

स्वामित्व- इस योजना के माध्यम से सर्वप्रथम गांवों में रहने वाले जनता को उनका मालिकाना हक प्रदान करना है। जॉन की माध्यम से गांवों में जमीनों को नापा जाएगा तथा जनता को उनकी जमीन के कागजात मुहैया किए जाएंगे ताकि उन्हें इसका मालिकाना हक मिल सके और भविष्य में भी इसका इस्तेमाल कर सकें।

शुभारंभ- इस योजना का शुभारंभ हमारे देश के प्रधानमंhत्री श्री नरेंद्र मोदी जी द्वारा पंचायती राज मंत्रालय की सहायता से 24 अप्रैल 2020 को पंचायती राज दिवस के मौके पर किया गया है|

रिकॉर्ड बनाना- इस योजना का प्रमुख उद्देश्य यही है कि कामों में रहने वाले वे लोग जिनके पास अपनी जमीन होते हुए भी कोई भी दस्तावेज तथा पुख्ता सबूत नहीं है उन्हें सरकार द्वारा अपनी जमीन के कागजात प्रदान किए जाएंगे और मालिकाना हक प्रदान किया जाएगा| इससे जमीन का रिकॉर्ड तय हो जाएगा|

ड्रोन की मदद- इस योजना के अंतर्गत सरकार द्वारा ड्रोन की सहायता ली जाएगी जिसके तहत ग्रामीण इलाकों की आवासीय जमीन की पैमाइश होगी जिससे कि जमीन के मालिकाना हक पर किसी प्रकार का विवाद ना हो।

गूगल मैपिंग- गावों में सबसे अधिक परेशानी जमीनों के बंटवारे में आते हैं आधे से अधिक मामले पुलिस अधिकारियों के पास जमीन से संबंधित ही रहते हैं। इसी समस्या से निजात पाने के लिए सरकार द्वारा गूगल मैपिंग कर जमीन का ब्यौरा तैयार किया जाएगा तथा सही स्वामी को जमीन के कागजात उपलब्ध किए जाएंगे|

इंफ्रास्ट्रक्चर मैं सुधार- ग्रामीण इलाकों में जमीन की संपत्ति का सही मालिकाना हक मालिक को प्रदान करने के बाद उनसे कर वसूली की जा सकेगी। कर वसूली अथवा टैक्स लगने से मिलने वाले धन से ग्रामीण इलाकों के इंफ्रास्ट्रक्चर में सुधार किया जा सकेगा।

UPSC Swamitva Yojana Paper: Click here

कोरोनावायरस का संकट जहां पूरे देश को अपनी चपेट में लिए हुए हैं वहीं प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा पंचायती राज दिवस के मौके पर लोगों को संबोधित करते हुए स्वामित्व योजना का शुभारंभ किया है। इस मौके पर उन्होंने ग्राम स्वराज पोर्टल तथा स्वामित्व योजना की शुरुआत की है। ई ग्राम स्वराज पोर्टल भी लोगों के लिए एक बहुत बड़ी सौगात है इससे घर बैठे लोग ग्राम सभाओं में चलने वाली गतिविधियों की जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि इस पोर्टल के लागू होने से ग्राम सभाओं में अधिक पारदर्शिता आएगी।

swamitva yojana app download

प्रधानमंत्री मोदी जी ने शुक्रवार को सभी पंचायतों को संबोधित करते हुए यह भी कहा है कि पांच 6 साल पर देश की सिर्फ 100 पंचायतें ही ब्रॉडबैंड से जुड़ी थी लेकिन आज सवा लाख पंचायतों तक यह ब्रॉडबैंड की सुविधा पहुंच चुकी है। प्रधानमंत्री मोदी जी ने यह भी कहा है कि जिन वेबसाइटों को शुरू किया गया है उनसे जरिए गांव तक जानकारी और मदद पहुंचाने में भी तेजी आएगी। इस वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग में प्रधानमंत्री मोदी जी ने ग्राम पंचायतों के प्रमुखों से भी बात की और कहा कि स्वामित्व योजना के अंतर्गत गांव की मैपिंग को ड्रोन के माध्यम से किया जाएगा इस योजना के अंतर्गत लोगों को बैंकों से लोन लेने में भी आसानी होगी।

स्वामित्व योजना की शुरुआत

प्रधानमंत्री मोदी जी ने कहा है कि सबसे पहले स्वामित्व योजना को कुछ ही प्रदेशों में शुरू किया गया है। इस योजना के अंतर्गत सबसे पहले पूरे देश के 6 राज्यों को इस योजना से जोड़ने का प्रबंध किया गया है|

इन प्रदेशों में शुरू होने के बाद ही इसे हर गांव में लागू किया जाएगा| सबसे पहले यह राज लाभार्थी राज्य हैं:-

महाराष्ट्र
उत्तर प्रदेश
उत्तराखंड
कर्नाटक
मध्य प्रदेश
हरियाणा

स्वामित्व योजना के माध्यम से गांवों में होने वाले जमीनों के लिए झगड़े खत्म हो जाएंगे। शहरों की तरह गांव में भी अब जमीनों पर लोन लिया जाना संभव होगा। इसके लिए ग्रामीणों से कुछ न्यूनतम कागजात मांगे जाएंगे| जैसा कि हम सभी जानते हैं कि ग्रामों में संपत्ति को लेकर बहुत अधिक झगड़े सामने आते हैं पति पत्नी के बीच झगड़े, भाई-बहन के बीच, भाई-भाई के बीच झगड़ा संपत्ति के लिए खबर आना अखबारों में आम बात हो चुका है। भारत सरकार द्वारा इस पर लगाम लगाने के लिए ही स्वामित्व योजना को शुरू किया है|

e-Gram Swaraj Portal Mobile App Download

जहां पहले शहरी क्षेत्रों में ही प्रॉपर्टी पर लोन लिया जा सकता था वहीं अब ग्रामीण क्षेत्र के लोग भी अपनी प्रॉपर्टी पर लोन ले सकते हैं। इस योजना के माध्यम से गावों में संपत्ति को रहकर होने वाले झगड़े तथा भ्रम समाप्त हो जाएंगे तथा गांव में विकास योजनाओं की प्लानिंग में भी मदद मिलेगी। प्रधानमंत्री मोदी जी ने यह भी कहा है कि यह हम सब जानते हैं कि हमारे देश को सशक्त बनाने के लिए गमों का सशक्त होना बहुत ही अनिवार्य है और इसमें ग्राम पंचायतों की अहम भूमिका होती है। ग्राम पंचायतें गरीबों को अनाज पहुंचाने में अहम भूमिका निभाती है|

प्रधानमंत्री मोदी जी ने संबोधित करते हुए यह भी कहा है हम अभी कोरोना वायरस से लड़ रहे हैं लेकिन करो ना वायरस ने हमें एक बहुत बड़ा संदेश दिया है कि हमें अब आत्मनिर्भर बनना ही पड़ेगा जिला पंचायतों को आत्मनिर्भर बनना पड़ेगा| तभी हम अपने देश को अधिक सशक्त बनाने में संभव होंगे।

दोस्तों हम सभी जानते हैं कि इस समय पूरे देश में लोग डाउन का समय है और यह केवल एक वायरस के कारण यह बारस बहुत ही खतरनाक है जो कि एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति को महेश बात करने से तथा छूने से फैलता है। इस संकट के समय में ना केवल भारतवर्ष बल्कि अन्य देश भी जूझ रहे हैं| भारत में इस वायरस से मरने वालों की संख्या अन्य देशों की तुलना में कम है। लेकिन दिन प्रतिदिन यह वायरस अपनी जड़ों को फैला रहा है| इसे अपने देश से जड़ से खत्म करने में एक ही साधन है वह है सामाजिक दूरी| जितना सामाजिक दूरी हम अन्य लोगों से बनाकर रखेंगे यह वायरस की रोकथाम वहीं पर हो जाएगी।

स्वामित्व योजना के लिए आवेदन

हम सभी जानते हैं कि कोरोनावायरस के लिए अभी कोई भी दवाई तथा टीका उपलब्ध नहीं हो पाया है। दोस्तों प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा भी यही कहा गया है कि कोरोनावायरस ने हमें आत्मनिर्भर बनाना सिखाया है और जितना आत्मनिर्भर हम बन सकेंगे उतना ही अच्छा हमें तथा हमारे देश के लिए होगा। दोस्तों प्रधानमंत्री मोदी जी ने लोगों को संबोधित करते हुए स्वामित्व योजना तथा ग्राम स्वराज पोर्टल की शुरुआत की है इन दोनों योजनाओं की शुरुआत लोगों को सहूलियत प्रदान करने के लिए शुरू किए गए हैं| अब 2020 के बाद किसी भी गांव में जमीन के लिए कोई प्रकार का झगड़ा नहीं होगा क्योंकि सरकारी कागजात मालिक को मिलने के पश्चात किसी भी प्रकार की कशमकश लोगों के मन में नहीं रहेगी|

गावों में रहने वाले वह सभी लोग जो स्वामित्व योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो दोस्तों आपको थोड़ा सा इंतजार करना होगा क्योंकि हाल ही में प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा इस योजना की शुरुआत की गई है लेकिन अभी तक इस योजना से संबंधित आवेदन की प्रक्रिया को लागू नहीं किया गया है| जैसा कि हमने आपको ऊपर भी बताया कि इस योजना को सबसे पहले भारत वर्ष के केवल 6 राज्यों में ही शुरू किया गया है वह राज्य हैं उत्तर प्रदेश हरियाणा, उत्तराखंड, महाराष्ट्र, कर्नाटका, मध्य प्रदेश और उत्तर प्रदेश| इन राज्यों में सबसे पहले स्वामित्व योजना की शुरुआत की जाएगी। दोस्तों जल्द ही सरकार द्वारा स्वामित्व योजना आवेदन की प्रक्रिया के बारे में जानकारी भी उपलब्ध की जाएगी। जैसे ही हमें अधिकारिक सूचना आवेदन से संबंधित प्राप्त होती है हम आपको इस आर्टिकल के माध्यम से संपूर्ण जानकारी उपलब्ध कर देंगे।

अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए आप नीचे दिए गए कमेंट बॉक्स में कमेंट के माध्यम से हम से संपर्क कर सकते हैं| इसके प्रधानमंत्री मोदी जी द्वारा शुरू की गई अन्य योजनाओं की जानकारी भी आप यहां से बहुत ही आसानी से प्राप्त कर सकते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *